टीचर्स ऑफ बिहार का सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म कू ऐप हुआ दस हज़ार के पार

Advertisement

वाणीश्री न्यूज़। बिहार की सबसे बड़ी प्रोफेशनल लर्निंग कम्युनिटी टीचर्स ऑफ बिहार के विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की तरह ही कू ऐप भी शिक्षकों में बेहद लोकप्रिय हो रहा है।

Advertisement

इसकी लोकप्रियता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि इस स्वदेशी ऐप में विगत तीन माह में दस हज़ार से भी अधिक बिहार के सरकारी विद्यालयों के शिक्षक जुड़कर अपने विद्यालयों में हो रहे नवाचारी गतिविधियो को साझा कर रहे हैं। यह जानकारी देते हुए टीचर्स ऑफ बिहार के प्रदेश प्रवक्ता सह अररिया जिले के फारबिसगंज प्रखंड के शिक्षक रंजेश कुमार ने कहा कि कू ऐप का इंटरफ़ेस भी ट्विटर के समान ही है, जिससे उपयोगकर्ता अपने पोस्ट को हैशटैग के साथ वर्गीकृत कर सकते हैं और अन्य उपयोगकर्ताओं को उल्लेख या उत्तरों में टैग कर सकते हैं।

वहीं प्रदेश मीडिया संयोजक सह पूर्वी चंपारण जिले के पताही प्रखण्ड के शिक्षक मृत्युंजय ठाकुर ने बताया कि कू पीले और सफेद इंटरफेस का उपयोग करता है। 4 मई 2021 को, कू ने “टॉक टू टाइप” नामक एक नया फीचर पेश किया, जो अपने उपयोगकर्ताओं को ऐप के वॉयस असिस्टेंट के साथ एक पोस्ट बनाने की अनुमति देता है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here