दो दिवसीय ग्राम स्तरीय गंगा दूत आवासीय प्रशिक्षण कार्यक्रम की हुई शुरुआत

Advertisement

दो दिवसीय ग्राम स्तरीय गंगा दूत आवासीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन नेहरू युवा केंद्र वैशाली के तत्वाधान में नमामि गंगे कार्यक्रम में युवाओं की सहभागिता परियोजना के अन्तर्गत शुभ मिलन विवाह भवन बिदुपुर में किया गया। यह प्रशिक्षण युवा कार्यक्रम एवंम खेल मंत्रालय, भारत सरकार की स्वयायत्त शासी संस्था नेहरू युवा केन्द्र संगठन द्वारा राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन, जल शक्ति मंत्रालय, भारत सरकार के सहयोग से आयोजित किया गया।

उपस्थित गंगा दूतों को गंगा नदी की स्वछता एवं निर्मलता बनाए रखने के लिए हमारा क्या प्रयास हो सकता है या हम गंगा नदी को स्वच्छ बनाने के लिए विभिन्न स्तर पर क्या कदम उठाए जा सकते हैं जैव विविधता,पर्यावरण संरक्षण,अर्थ गंगा,गंगा संरक्षण आदि विषय पर प्रशिक्षण दिया गया।इस प्रशिक्षण के दौरान गंगा दूतों को नमामि गंगे परियोजना के उद्देश्यों, महत्वपूर्ण क्षेत्रों के बारे में जानकारी प्रदान की गई तथा उन्हें स्वेच्छा से उनके संबंधित ग्रामों में परियोजना से सम्बन्धित गतिविधियों एवं शैक्षिक गतिविधियों को करने के लिए प्रेरित किया गया।

Advertisement

कार्यक्रम का विधिवत उद्घाटन डॉ० सत्येंद्र कुमार (HOD ZOLOGY, SNS COLLOGE), मुनेश कुमार (जिला परियोजना प्रभारी ,नामामि गंगे) , मुकेश कुमार राम हिंदुस्तान स्काउट गाइड, विवेक कुमार वक्ता, समाजसेवी मृत्युंजय कुमार सिंह,पूर्व सरकारी शिक्षक राजगीर पंडित ,समाज सेवी चंदेश्वर सिंह,पूजा समिति बिदुपुर अध्यक्ष केदार राय राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवक अजीत कुमार सिंह आदि ने संयुक्त रूप से द्वीप प्रज्वलित कर किया।

प्रशिक्षण के दौरान बिदुपुर के ग्रामों के 50 से अधिक गंगा दूत मौजूद रहे। प्रशिक्षण को संबोधित करते हुए डॉ सत्येंद्र कुमार ने बताया की यह प्रशिक्षण आप सभी प्रतिभागियों को ग्राम स्तर पर गंगा एवं जैव विविधता को संरक्षण करने में जागरूकता में मिल का पत्थर साबित होगा।

आप सभी इस प्रशिक्षण में अपने व्यक्तित्व के साथ साथ टेक्निकल ज्ञान प्राप्त कर समाज को आदर्श बनाने में भूमिका निभा सकते है। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला परियोजना अधिकारी(नमामि गंगे परियोजना) मुनेश कुमार द्वारा प्रशिक्षण के बारे में विस्तृत जानकारी एवं नमामि गंगे परियोजना के बारे में , जैविक खेती के बारे में जैविक कृषि गंगा की जैव विविधता,प्रशिक्षण के उद्देश्य आदि के बारे विस्तृत जानकारी प्रदान किया गया।

पूर्व राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवक विवेक कुमार द्वारा नेहरू युवा केंद्र के बारे में विस्तार पूर्वक चर्चा किया गया की नेहरू युवा केंद्र किस किस तरह के कार्य करती है।

नेहरू युवा केंद्र संगठन उद्देश्यों एवं कार्यपद्धति आदि पर चर्चा प्रस्तुत किया। अगले सत्र में मुकेश कुमार राम द्वारा खेल गतिविधि के माध्यम से गंगा दूत को नाटक, गीत आदि के सहयोग से किस तरह गंगा स्वच्छता पर जागरूकता किया जा सकता है इस पर प्रशिक्षित किया । कार्यक्रम को मृत्युंजय कुमार सिंह,पंकज कुमार,राजगीर पंडित,चंदेश्वर सिंह,विकास कुमार निदेशक विवाह भवनआदि ने संयुक्त रूप से द्वीप प्रज्वलित कर किया। प्रशिक्षण बिदुपुर के ग्रामों के 50 से अधिक गंगा दूत मौजूद रहे।

प्रशिक्षण को संबोधित करते हुए डॉ सत्येंद्र कुमार ने बताया की यह प्रशिक्षण आप सभी प्रतिभागियों को ग्राम स्तर पर गंगा एवं जैव विविधता को संरक्षण करने में जागरूकता में मिल का पत्थर साबित होगा। आप सभी इस प्रशिक्षण में अपने व्यक्तित्व के साथ साथ टेक्निकल ज्ञान प्राप्त कर समाज को आदर्श बनाने में भूमिका निभा सकते है।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला परियोजना अधिकारी(नमामि गंगे परियोजना) मुनेश कुमार द्वारा प्रशिक्षण के बारे में विस्तृत जानकारी एवं नमामि गंगे परियोजना के बारे में , जैविक खेती के बारे में जैविक कृषि गंगा की जैव विविधता,प्रशिक्षण के उद्देश्य आदि के बारे विस्तृत जानकारी प्रदान किया गया।पूर्व राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवक विवेक कुमार द्वारा नेहरू युवा केंद्र के बारे में विस्तार पूर्वक चर्चा किया गया की नेहरू युवा केंद्र किस किस तरह के कार्य करती है , नेहरू युवा केंद्र संगठन उद्देश्यों एवं कार्यपद्धति आदि पर चर्चा प्रस्तुत किया।

अगले सत्र में मुकेश कुमार राम द्वारा खेल गतिविधि के माध्यम से गंगा दूत को नाटक,गीत आदि के सहयोग से किस तरह गंगा स्वच्छता पर जागरूकता किया जा सकता है इस पर प्रशिक्षित किया । कार्यक्रम को मृत्युंजय कुमार सिंह,पंकज कुमार,राजगीर पंडित,चंदेश्वर सिंह आदि संबोधित किया। कार्यक्रम की संचालन के सहयोग में पावेल कुमार, प्रिंस कुमार, सुजीत कुमार आदि उपस्थित रहे।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here