एल्बेंडाजोल टेबलेट खिलाकर किया अभियान का शुभारंभ

Advertisement

सं.सु.बिदुपुर बिदुपुर प्रखंड के आंगनवाड़ी केंद्र चक जेनब केंद्र संख्या 20 प्रदेश महासचिव सविता कुमारी के द्वारा 1 वर्ष के बच्चों को एल्बेंडाजोल की टेबलेट खिलाकर इस अभियान का शुभारंभ किया गया सविता के अनुसार एक से पांच वर्ष आयु तक के सभी बच्चों को सभी आंगनबाड़ी केंद्रों पर, सभी सरकारी व निजी विद्यालयों में छह से 19 वर्ष आयु तक के बच्चों को एल्बेंडाजोल दवा दी जाएगी।

उन्होंने बताया कि 16  सितंबर से 21 सितंबर तक बच्चों को दवा खिलाई जाएग सविता ने बताई कि एल्बेंडाजोल एक सुरक्षित दवा है। इस दवा से कोई भी साइड-इफेक्ट नहीं होता। दवा पेट में कीड़ों या कृमियों को समाप्त करने के लिए दी जाती है। पेट में अधिक कीड़े या कृमि होने की स्थिति में यह दवा देने पर बच्चे को हल्का से चक्कर या उल्टी हो सकती है। इसलिए घबराने की आवश्यकता नहीं है, ऐसी स्थिति में बच्चे को थोड़े समय के लिए खुली हवा में लेटा दें व पानी पिला दें। इसके उपरांत पांच से सात मिनट में ही बच्चा सामान्य अवस्था में आ जाता है।

Advertisement

यह दवा बच्चों को दी जानी अनिवार्य है। पेट में होने वाले कीड़े या कृमि से बच्चे के शरीर में खुराक नहीं लगती और बच्चा शारीरिक व मानसिक रूप से कमजोर होने लगता है। बच्चे के शरीर को विभिन्न बीमारियां होने लगती है । एल्बेंडाजोल दवा देते समय आवश्यक रूप से यह सावधानी बरतें कि बच्चा खाली पेट न हो अर्थात बच्चे ने दवा लेने से पूर्व कुछ न कुछ भोजन अवश्य किया हो।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here