जिलाधिकारी वैशाली ने किया जन्दाहा प्रखंड एवं अंचल कार्यालय का औचक निरीक्षण

Advertisement

वाणीश्री न्यूज़, रिपोर्ट: जितेन्द्र कुमार चौधरी, जन्दाहा। जिलाधिकारी वैशाली यशपाल मीणा द्वारा जंदाहा प्रखंड एवं अंचल कार्यालय का औचक निरीक्षण किया गया। इस क्रम में उन्होंने प्रखंड परिसर स्थित विभिन्न विभागीय कार्यालयों का भी निरीक्षण किया।

निरीक्षण के दौरान प्रखंड परिसर स्थित बाल विकास परियोजना कार्यालय से बाल विकास परियोजना पदाधिकारी अनुपस्थित पाए गए जिनके विरुद्ध कार्रवाई किए जाने की बात कही। डीएम द्वारा प्रखंड विकास पदाधिकारी के कक्ष में बैठकर जहां प्रखंड कार्यालय द्वारा संचालित विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का समीक्षा किया गया। वहीं प्रधानमंत्री आवास योजना की जानकारी प्राप्त की गई। तत्पश्चात उनके द्वारा प्रखंड विकास पदाधिकारी के कार्यालय का औचक निरीक्षण कर कार्यालय में संधारित संचिकाओ अवलोकन किया गया जिसके दौरान उपस्थित प्रखंड विकास पदाधिकारी रंजीत कुमार एवं संबंधित कर्मियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।

Advertisement

जिलाधिकारी द्वारा प्रखंड परिसर स्थित अंबेडकर भवन बाल विकास परियोजना कार्यालय, कौशल विकास केंद्र, प्रखंड परिसर स्थित जीर्ण शीर्ण कुआं, अंचल अभिलेखागार एवं प्रखंड परिसर का भी जायजा लिया गया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा अंचल कार्यालय में अंचल अधिकारी निशांत कुमार से ऑनलाइन से संबंधित सभी सरकारी कार्यों एवं योजनाओं का बिंदुवार पूछताछ किया गया तथा जनता दरबार से संबंधित भूमि विवाद निष्पादन मामले का जायजा लिया गया। इस दौरान ऑनलाइन से संबंधित सभी कार्यों का निर्धारित अवधि में निष्पादन किए जाने एवं जनता दरबार में भूमि विवाद से संबंधित मामलों का निष्पादन किए जाने को लेकर अंचल अधिकारी के कार्यों की सराहना की गई।

निरीक्षण के दौरान प्रखंड परिसर स्थित जीर्णशीर्ण कुआं को देख डीएम ने कुआं को जल जीवन हरियाली योजना के तहत जीर्णोद्धार किए जाने का निर्देश दिया। तत्पश्चात डीएम द्वारा प्रखंड कार्यालय में उपस्थित मनरेगा के कार्यक्रम पदाधिकारी से मनरेगा से संबंधित योजनाओं एवं उनके संचालन तथा भुगतान की जानकारी प्राप्त किया। उन्होंने कहा कि मनरेगा के कार्यक्रम पदाधिकारी को पूर्ण पारदर्शिता के साथ सरकारी योजनाओं का नियमानुसार संचालन कराए जाने का निर्देश देते हुए किसी प्रकार की अनियमितता पाए जाने पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी।

डीएम द्वारा प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी से प्रखंड अंतर्गत संचालित सभी विद्यालयों एवं कार्यरत शिक्षकों की जानकारी प्राप्त की गई तथा प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। वहीं डीएम द्वारा प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी से महुआ प्रखंड के अतिरिक्त प्रभार में होने की जानकारी प्राप्त की गई। जिसके बाद प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी से आपूर्ति विभाग से संबंधित कार्यों का जायजा लेते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया तथा किसी प्रकार की शिकायत होने पर सख्त कार्रवाई करने की चेतावनी दी गई। वहीं डीएम द्वारा प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी से पूछताछ कर आवश्यक दिशा निर्देश दिया। वहीं बगैर कोई सूचना के अपने कार्यालय से बाल विकास परियोजना पदाधिकारी को अनुपस्थित पाए जाने पर उनके विरुद्ध कार्रवाई की बात कही।

डीएम द्वारा प्रखंड कृषि पदाधिकारी से भी कृषि से संबंधित योजनाओं का जानकारी प्राप्त करते पूर्ण पारदर्शिता के साथ सभी योजनाओं का संचालन किए जाने का निर्देश दिया गया । प्राप्त जानकारी के अनुसार पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत डीएम वैशाली का सोमवार को जिले के पातेपुर, महुआ एवं राजापाकर प्रखंड एवं अंचल कार्यालय का निरीक्षण निर्धारित था लेकिन इसी बीच सोमवार को शाम लगभग 3:30 बजे के करीब डीएम अपने काफिले के साथ जंदाहा प्रखंड कार्यालय औचक निरीक्षण को पहुंचे। करीब 1 घंटे तक प्रखंड परिसर स्थित कार्यालयों का निरीक्षण किए जाने के पश्चात संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए जाने के पश्चात जंदाहा से प्रस्थान किया।

इस दौरान जिलाधिकारी के साथ एसडीओ महुआ, डीसीएलआर महुआ, जिला स्तरीय पदाधिकारी, अनुमंडल स्तरीय पदाधिकारी एवं प्रखंड स्तरीय विभिन्न विभागीय पदाधिकारी उपस्थित थे।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here