ब्रांड वैशाली के रूप में केला उत्पाद को आगे बढ़ाने का प्रयास किया जाय : डीएम

Advertisement

वाणीश्री न्यूज़, हाजीपुर(वैशाली)। जिला को केला से बने उत्पाद को ब्रांड वैशाली के रूप में आगे बढ़ाने और व्यापक स्तर पर पहचान दिलाने के लिए जिलाधिकारी श्री यशपाल मीणा के द्वारा अपने कार्यालय कक्ष में उद्योग विभाग , कृषि एवं उद्यान , बियाड़ा , अग्रणी बैंक प्रबंधक ( एलडीएम ) , जीविका एवं स्टार्ट अप से जुड़े युवाओं के साथ एक महत्त्वपूर्ण बैठक की गयी । इसमें जिलाधिकारी के द्वारा नव प्रवर्तन योजना सहित उद्योग विभाग की योजनाओं से इसे अच्छादित करने तथा जिला में केला के रेशे से बनने वाली वस्तुओं के लिए उत्पाद इकाई लगाने की बात कही गयी ।

जिलाधिकारी ने कहा कि कलस्टर बनाकर कम से कम 10 उत्पादन इकाई लगाने का प्रयास किया जाय । इसके लिए आवेदन जेरनेट किया जाय तथा इससे जीविका समूह को जोड़ा जाय । कृषि विज्ञान केन्द्र हाजीपुर द्वारा प्रशिक्षण प्राप्त कर चूकी 100 महिलाओं एवं 50 पुरुषों का प्रारंभिक सेट अप बनाया जाय जिसे बाजार के मुताबिक और विस्तारित किया जाएगा । जिलाधिकारी के द्वारा बैठक में उपस्थित स्टार्टअप से जुड़े इंजीनियर फैशन डिजायनर एवं प्रबंधन के युवाओं से इस पर विचार – विमर्श किया गया और उनकी राय ली गयी।

Advertisement

जिलाधिकारी ने कहा कि ब्रांड वैशाली को समुचित बाजार उपलब्ध हो इसके लिए अगली बैठक में स्थानीय हाजीपुर स्थित खादी , मॉल , बिग बाजार , सुपर मार्केट , नाइट – टू – नाइट के प्रबंधकों को भी बुलाया जाय । जिला कृषि पदाधिकारी को नर्देश दिया गया आगामी दशहरा के बाद हाजीपुर में एग्रीकल्चर एण्ड हॅर्टीकल्चर कनक्लेव करायें ताकि कृषि एवं सम्बद्ध उद्योग को एक कॉमन प्लेटफार्म उपलब्ध कराया जा सके । प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना की प्रगति के बारे में पूछने पर जिला उद्योग महाप्रबंधक ने बताया कि पाँच सौ से अधिक आवेदन बैंकों को भेजे गये हैं जिसमें 127 को स्वीकृति दी गयी है ।

इसपर एलडीएम को जरूरी कार्रवाई करने का निदेश दिया गया बियाड़ा के क्षेत्र प्रबंधक को औधौगिक क्षेत्र हाजीपुर में बियाड़ा की बंद ईकाइयों को चालू कराने का निदेश दिया गया । इस बैठक में जिलाधिकारी के साथ जिला कृषि पदाधिकारी , सहायक निदेशक उद्यान , महाप्रबंधक उद्योग , बियाडा के क्षेत्र प्रबंधक , डीपीएम जीविका , एलडीएम सहित अन्य पदाधिकारी एवं स्टार्टअप से जुड़े युवा उद्यमी उपस्थित थे।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here