शहीद सैनिकों को पूर्व सैनिक संघ ने दी श्रद्धांजली

रिपोर्ट: मोहम्मद शाहनवाज अता, हाजीपुर (वैशाली)जिला पूर्व सैनिक संघ के रामचंदर नगर दिग्घीकलां पूर्वी स्थित जिला कार्यालय में कार्यक्रम आयोजित कर गलवान घाटी के शहीदों को उनकी पहली शहादत दिवस पर श्रद्धांजलि दी गई। श्रद्धांजलि सभा की अध्यक्षता आरपी यादव तथा संचालन जिला महासचिव सुमन कुमार ने की। कार्यक्रम में गलवान घाटी में शहीद हुए वैशाली जिले के सपूत शहीद सैनिक जयकिशोर सिंह के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की गई। उपस्थित पूर्व सैनिकों ने उनके अद्वितीय बलिदान को याद करते हुए देशवासियों से राष्ट्रहित के मुद्दे पर आपसी मतभेद भुलाकर एक होने की अपील की।

इस मौके पर संघ ने केंद्र एवं राज्य सरकार से शहीदों के सम्मान की योजनाएं चलाने तथा शहीदों की आदमकद मूर्ति विभिन्न चौक-चौराहे पर लगाने की मांग की। इसके साथ ही राष्ट्रीय पर्व के अवसर पर वीर नारियों तथा पूर्व सैनिकों का सम्मान करने, वैशाली जिले के सभी शहीदों के जीवनवृत्त पर एक पुस्तक प्रकाशित कर प्रत्येक विद्यालय एवं पुस्तकालयों में वितरित करने तथा सैनिकों के कल्याण से जुड़े लंबित मांगो को अविलंब पूरा करने की मांग की गई। इस मौके पर जेपीएन सिंह, रामजतन पासवान, संतोष शुक्ला, लक्ष्मण रजक, संजय कुमार राय, गणेश नारायण शर्मा, अरविंद कुमार सिंह, विनोद सिंह, राजा कुंवर आदि ने विचार व्यक्त करते हुए वीर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की।

वहीं जन्दाहा प्रखंड के कजरी भाथ पंंचायत के चकफतह गांव स्थित शहीद जय किशोर सिंह के घर पर एक सादे समारोह में गलवान मेें बीते साल शहीद हुए शहीद जय किशोर सिंह के प्रथम शहादत दिवस पर पुष्प अर्पित करते हुए श्रद्धांजली दी गई।इस अवसर पर पातेपुर के विधायक लखेन्द्र रौशन उर्फ लखेन्द्र पासवान,वार्ड सदस्य जय प्रकाश सिंह ने शहीद जय किशोर सिंह के चित्र पर श्रद्धासुमन अर्पित किए।वहीं शहीद जय किशोर सिंह के माता-पिता ने कहा कि केन्द्र व राज्य सरकार के द्वारा मुआवजा दिया गया और एक बेटे को नौकरी दी गई है।

अफसोस की बात है कि एक साल के बीतने के बावजूद शहीद जय किशोर सिंह को वह सम्मान नहीं मिला जो मिलना चाहिए।आज भी शहादत दिवस पर कोई नेता या मंत्री तक दो फूल चढ़ाने शहीद के घर पर नहीं पहुंचें।शहीद जय किशोर सिंह बीते साल चीनी सैनिकों से लोहा लेते हुए गलवान घाटी में शहीद हो गए थे।
साथ में फोटो

Previous articleनहीं रहे अभिनेता चंद्रशेखर
Next articleएआईएसएफ वैशाली जिला परिषद की बैठक संपन्न