सहदेई के विभिन्न पंचायतों में यास तूफान के कारण गिरा कई घर लोग हुये बेघर

सहदेई बुजुर्ग –  यास तूफान के कारण लगातार दो दिनों से चल रही तेज हवाओं और वर्षा के कारण जनजीवन दो दिनों से पूरी तरह अस्त-व्यस्त है।वहीं लोगों को इससे भारी नुकसान भी उठाना पड़ा है। दर्जनों की संख्या में झोपड़ी आदि टूट गए हैं और पेड़ उखड़ गए हैं। जानकारी के अनुसार यास तूफान के प्रभाव के कारण गुरुवार से शुरू हुई वर्षा शुक्रवार को भी जारी रही।हालांकि शुक्रवार की दोपहर से हवा की रफ्तार थम सी गई।लेकिन गुरुवार को चली तेज हवा और उसके साथ हुई मूसलाधार वर्षा ने जनजीवन को बहुत बुरी तरह प्रभावित किया है।लोग दो दिनों से घरों में ही दुबके पड़े हैं।पशुपालन करने वालों एवं सड़क किनारे फुटपाथ पर दुकान लगाने वालों आदि लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

तूफान के कारण चलने वाली तेज हवाओं और उसके साथ होने वाली वर्षा के कारण प्रखंड के नयागांव पश्चिमी पंचायत में के वार्ड संख्या 13 में अजीत कुमार महतो के पुत्र रितिक कुमार,वकील राय एवं देव प्रसाद राय का घर गिर कर क्षतिग्रस्त हो गया।इसमें सबसे ज्यादा नुकसान रितिक कुमार का हुआ।रितिक कुमार के रहने का यही एकमात्र आसरा था जो इस आंधी तूफान के में ध्वस्त हो गया।इससे इस बरसात के मौसम में पूरे परिवार को सर छुपाने के लिए भारी जद्दोजहद का सामना करना पड़ रहा है। इसकी सूचना पंचायत की मुखिया रीता देवी एवं समाजसेवी सुनील कुमार महतो ने प्रखंड के सीओ सोहन राम को देते हुए परिवार को मदद देने की मांग की है।

वहीं चकफैज पंचायत के सहदेई खुर्द गांव में यास तूफान से उमाशंकर राय के घर को बहुत बड़ा नुकसान हुआ।उमाशंकर राय के घर का एक हिस्सा भरभरा कर गिर गया।लेकिन इस घटना में घर के किसी सदस्य को चोट नहीं आई है। घर क्षतिग्रस्त होने से उमा शंकर राय के समक्ष भी सर छुपाने का संकट खड़ा हो गया है।वहीं इस गांव में कई लोगों के मवेशियों के बांधने की जगह भी क्षतिग्रस्त या निकसान हुआ है।समाजसेवी ठाकुर विकाश सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि सहदेई खुर्द निवासी गौरी राय एवं अभय सिंह सहित अन्य लोगों के मवेशी का दलान गिर गया है।

वही अभय सिंह के महोगनी के पेड़ों को नुकसान हुआ है।इस गांव में कई घर भी हवा के तेज झोंके से उखड़ गया है।विकास सिंह ने सरकार से उचित मुआवजा देने की मांग की है।तेज हवाओं के कारण हाजीपुर-महनार-मोहिउद्दीन नगर मुख्य मार्ग एसएच 93 पर सुलतानपुर पंचायत में हाट के निकट बांस के दर्जनों पेड़ एक साथ झुक कर सड़क पर आ गिरा है।जिससे इस अति व्यस्ततम सड़क पर गाड़ियों को आने-जाने में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वही लगातार दो दिनों से जारी बरसात ने किसानों के चेहरे पर भी मायूसी ला दी है।किसानों को अपने फसलों की चिंता सताने लगी है।किसानों को चिंता है कि लगातार वर्षा के कारण एक ओर जहां सब्जियों के पौधे गल जाएंगे वहीं प्याज की खेती को भी बड़े पैमाने पर नुकसान होगा।

Previous articleप्रखंड स्तरीय पदाधिकारियों को जिला प्रशासन के कदम से कदम मिलाकर करना चाहिए कार्य
Next articleतूफान यास के रुकने के तुरंत बाद विधायक अवधेश सिंह ने किया निरीक्षण