केनरा बैंक के एटीएम में हुए चोरी मामले में मास्टरमाइंड गिरफ्तार

Advertisement

वाणीश्री न्यूज़, जंदाहा- जंदाहा थाना क्षेत्र के हरप्रसाद चौक के समीप एनएच 322 मार्ग के किनारे एक मार्केट परिसर में स्थित केनरा बैंक के एटीएम से बीते 9 जुलाई को दिन दहाड़े बाइक सवार एक अज्ञात युवक द्वारा बड़े ही नाटकीय तरीके से एटीएम से लाखों रुपए चोरी कर फरार होने मामले के मास्टरमाइंड शातिर साइबर क्राइमर को पुलिस ने तकनीकी अनुसंधान के आधार पर बड़े ही नाटकीय तरीके से पटना जिला के बाढ़ थाना क्षेत्र अंतर्गत बाढ़ बाजार से गिरफ्तार करने में सफलता पाई है।

Advertisement

थाना अध्यक्ष विश्वनाथ राम ने बताया कि मामले के अनुसंधानकर्ता अवर निरीक्षक अमर कुमार द्वारा पुलिस बल के सहयोग से तकनीकी अनुसंधान के तहत एटीएम से रुपए चोरी मामले मैं शामिल अपराधी पटना जिला के बाढ़ थाना क्षेत्र के बाढ बजार निवासी स्वर्गीय शशि भूषण प्रसाद के पुत्र रोहित कुमार को गिरफ्तार किया गया है. इस मामले में गिरफ्तार किए गए अपराधी रोहित कुमार इंजीनियर है तथा बड़े ही नाटकीय तरीके से इस घटना को अंजाम दिया था।

प्राप्त सूत्रों के अनुसार पुलिस द्वारा की गई आवश्यक पूछताछ में इस बात का खुलासा हुआ है कि गिरफ्तार किए गए अपराधी नहीं बड़े ही नाटकीय तरीके से अकेले इस घटना को अंजाम दिया था. पुलिस प्रशासन द्वारा गिरफ्तार किए गए आरोपी से आवश्यक पूछताछ के पश्चात उसे बुधवार को न्यायालय में प्रस्तुत किया गया. जहां से उसे न्यायिक हिरासत में मंडल कारा हाजीपुर भेज दिया गया है।

मालूम हो कि बीते 9 जुलाई शनिवार को दिन के लगभग 1:15 बजे हरप्रसाद चौक स्थित मार्केट परिसर में स्थापित केनरा बैंक के एटीएम में एक व्यक्ति हेलमेट एवं मास्क पहने हुए प्रवेश किया तथा एटीएम मशीन लगे मकान में लगे शटर को अंदर से बंद कर लिया था. मार्केट परिसर के दुकानदारों एवं उपस्थित लोगों ने समझा कि कोई बैंक का तकनीकी कर्मचारी अथवा अन्य कर्मचारी होगा जो ए टी एम लगे भवन का शटर बंद कर एटीएम में कुछ तकनीकी काम कर रहा होगा. कुछ देर बाद उक्त व्यक्ति हेलमेट एवं मास्क लगाए हुए एटीएम से बाहर निकला तथा पैदल चलकर कुछ दूरी पर लगे अपने बाइक पर सवार होकर फरार हो गया था।

इसी बीच एटीएम में छेड़छाड़ होने एवं राशि निकाले जाने की जानकारी एटीएम में लगे तकनीकी सिस्टम से एटीएम केनरा बैंक के प्रधान कार्यालय गुड़गांव को मिली थी. प्रधान कार्यालय द्वारा इसकी सूचना केनरा बैंक हरप्रसाद शाखा के शाखा प्रबंधक प्रणय पुंज को मोबाइल फोन पर दी गई। आपको बता दें कि जिस वक्त घटना की सूचना मिली उस वक्त पुलिस अधीक्षक कार्यालय में पुलिस अधीक्षक वैशाली के नेतृत्व में जिले के सभी थानों की क्राइम मीटिंग संचालित हो रही थी।

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक मनीष, एसडीपीओ महुआ पूनम केसरी, एसडीपीओ महनार विनोद पंजियार, अंचल पुलिस निरीक्षक जंदाहा अभय कुमार सिंह, जंदाहा थाना अध्यक्ष विश्वनाथ राम, औद्योगिक क्षेत्र हाजीपुर थाना अध्यक्ष अजय कुमार, तिसिऔता थाना अध्यक्ष प्रभु नाथ यादव आदि कई थानों की पुलिस एवं पुलिस अधीक्षक कार्यालय के तकनीकी पुलिस अधिकारियों की टीम घटनास्थल पर पहुंची थी तथा घटना की गहन जांच पड़ताल जारी कर दी गई थी। शनिवार एवं रविवार को बैंक का शाखा कार्यालय बंद होने के कारण शुक्रवार की शाम केनरा बैंक हरप्रसाद शाखा के एटीएम में भारी रकम 2 दिनों तक उपभोक्ताओं के सुविधा को लेकर डाला गया था।

एटीएम में 4 सेक्शन है जिसमें राशि डाली गई थी घटना के दौरान जांच पड़ताल में यह बात सामने आई है कि एटीएम के 1 सेक्शन को खोला अथवा तोड़ा गया था तथा राशि की चोरी की गई थी। बाद में बैंक के संबंधित तकनीकी अधिकारियों द्वारा पुलिस के समक्ष की गई। जांच पड़ताल में ए टी एम से 3 लाख 7हजार की राशि चोरी किए जाने का खुलासा हुआ था।

पुलिस के इस कामयाबी को सराहना करते हुए स्थानीय पूर्व प्रमुख प्रेम शंकर पासवान, बैजनाथ सिंह कुशवाहा, मुखिया संघ के अध्यक्ष जयप्रकाश राय, पूर्व पंचायत समिति सदस्य रामाशंकर सिंह, रितेश कुमार गुंजन, मुखिया विनोद कुमार, अर्जुनदास निशांत आदि ने बताया कि स्थानीय पुलिस काफी सक्रिय होकर घटना के मुख्य आरोपी को बड़े ही नाटकीय ढंग से गिरफ्तार किया है जो काफी सराहनीय है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here