मुजफ्फरपुर के गायघाट में नाबालिग का अपहरण कर किया दुष्कर्म

Advertisement

वाणीश्री न्यूज़, चन्दन कुमार, मुजफ्फरपुर। जिले के गायघाट थाना क्षेत्र के एक गांव का है, जहां एक नाबालिग के साथ नौ महीने तक दुष्कर्म किया गया। जब वह प्रेग्नेंट हो गयी तो उसे घर लाकर छोड़ दिया गया। उसे धमकी दी गयी कि अगर उसने केस किया तो तेज़ाब से चेहरा जला देगा। साथ ही उसके परिवार के लोगों की हत्या भी कर देगा। पीड़िता ने कुछ दिन पूर्व एक बच्चे को जन्म दिया। वह हिम्मत कर परिजनों के साथ गायघाट थाना पहुंची और प्राथमिकी दर्ज कराई।
इसमें मुखिया पति व  एक महिला समेत पांच लोगों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई है। आज पीड़िता का मेडिकल जांच और कोर्ट में बयान दर्ज कराया गया। पुलिस ने मामले में कार्रवाई करते हुए आरोपित एक महिला को गिरफ्तार भी कर लिया है। वहीं अन्य आरोपितों की तालाश में छापेमारी की जा रही है।

आवासीय बनवाने गयी थी पीड़िता:
पीड़िता ने बताया कि वह मुखिया के घर पर आवासीय बनवाने गयी थी। वहीं से उसे सभी आरोपितों ने मिलकर अगवा कर लिया। फिर मुजफ्फरपुर समेत कई जगहों पर ले जाकर दुष्कर्म किया। एक साल तक उसे अपने साथ रखा और धमकी देते थे। अगर केस करोगी या शिकायत करोगी तो पूरे परिवार की हत्या कर देंगे। डर के कारण पीड़िता मुंह नहीं खोलती थी। आरोपित इसका नाजायज फायदा उठाते रहे।

Advertisement

बच्चे को लेकर न्याय के लिए भटक रही:
15 अगस्त के  पीड़िता ने एक लड़के को जन्म दिया है। परिजन का कहना है कि तीन दिनों से थाना पर चक्कर काट रहे थे। लेकिन, कोई सुनवाई नहीं हो रही थी। वरीय अधिकारियों से गुहार लगाने के बाद प्राथमिकी दर्ज किया गया है। वह अपने दुधमुंहे बच्चे को लेकर न्याय के लिए भटक रही थी।

केस मैनेज करने का दबाव:
इस केस को मैनेज करने के लिए पीड़िता और उसके परिवार पर दबाव बनाया जा रहा था। कुछ सफेदपोश भी इस केस में पैरवी कर रहे थे। मामले को गांव स्तर पर सलटाने का प्रयास किया जा रहा था। लेकिन, वे लोग इसके लिए तैयार नहीं हुए। हिम्मत जुटाकर प्राथमिकी दर्ज कराने पहुंच गए। एसएसपी जयंत कांत ने बताया कि मामले में कार्रवाई की जा रही है। जो भो दोषी होंगे, उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

 

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here