जिला कार्यालय, पूर्वी सिंहभूम, जमशेदपुर

उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकारी के निर्देशानुसार समाहरणालय सभागार, जमशेदपुर में निदेशक एनईपी श्रीमती ज्योत्सना सिंह की अधयक्षता में आज DeGS अंतर्गत मोबाइल स्टेयरिंग कमिटी की बैठक आहूत की गई । बैठक में मोबाइल टॉवर लगाने एवं इससे जुड़े विषयों के समाधान पर विमर्श किया गया । उपस्थित टेलीकॉम कंपनियों के प्रतिनिधियों से उन्हें सरकारी विभागों से दी जा रही सेवाओं के बारे में फीडबैक भी लिया गया। साथ ही मोबाइल टॉवर लगाने को लेकर लोगों से जुड़ी शिकायतें भी सुनी गई। आमजनों द्वारा टॉवर लगाने से जुड़ी शिकायतों में मोबाईल टॉवर के रेडिएशन को लेकर भी शिकायतें थी जिन पर टेलिकॉम कंपनियों के प्रतिनिधियों ने बताया कि कोई भी व्यक्ति TERM Cell पोर्टल पर जाकर किसी भी टॉवर के रेडिएशन लेवल के बारे में जानकारी हासिल कर सकता है। उन्होंने कहा कि मोबाइल टॉवर का रेडिएशन स्तर हमारे मोबाइल फोन की बैटरी लो होने के बाद होने वाले रेडिएशन से भी कम होता है। साथ ही उन्होंने बताया कि यह स्वास्थ्य की दृष्टि से हानिकारक नहीं है, फिर भी कोई व्यक्ति अपने नजदीकी मोबाइल टॉवर के रेडिएशन स्तर की जांच करवाना चाहता है तो वह TERM Cell पोर्टल पर निर्धारित फीस के साथ आवेदन कर सकता है।

निदेशक एनईपी द्वारा बैठक में बताया गया कि कमिटी द्वारा जिले के विभिन्न प्रखंडों एवं नगर निकाय क्षेत्र में कुल 17 टॉवर लगाने की अनुमति प्रदान की गई है तथा अन्य 24 आवेदनों को कमिटी के सदस्यों के समक्ष भेजा गया है । सभी टेलिकॉम कंपनियों के प्रतिनिधियों को स्पष्ट निर्देश दिया गया कि वे किसी जमीन पर टॉवर अधिष्ठापन से पहले सभी संबंधित पक्षों से आवश्यक कागजात प्राप्त होने पर ही आगे की कार्रवाई करें ताकि भूमि विवाद संबंधी मामले नहीं रहें । बैठक में बीएसएनएल, जिओ, एयरटेल तथा अन्य संबंधित टेलिकॉम कंपनियों के प्रतिनिधि उपस्थित थे ।

Previous articleजिला जनसंपर्क कार्यालय, पूर्वी सिंहभूम, जमशेदपुर
Next articleअसंतुलित ऑटो गड्ढे मे पलटी,एक की मौत,कई घायल