BegusaraiBhagwanpurBiharNational
Trending

पुलिस के भय से लोग लेकर चलते है जेब में फेस मास्क

मास्क पहनना लोग शान के खिलाफ समझते हैं

रिपोर्ट: मृत्युंजय कुमार, भगवानपुर (बेगूसराय)। लोगों को बुद्धिमान कहूं या बुद्धू, कारण जब पूरी दुनिया कोरोना वायरस जैसे महामारी से त्राहि-त्राहि कर रहा है, वहीं अभी भी भस्मासुर मानसिकता के लोग आवश्यक निर्देश का पालन करने में पुलिस से आंख मिचौली कर रहे हैं। सरकार ने सड़क दुर्घटना में चालक को मौत से बचाने के लिए हैलमेट अनिवार्य रूप से ड्राइव करते समय पहनने का आदेश दिया, और इसे पालन कराने की जिम्मेदारी पुलिस प्रशासन पर सौंप दी।

अब नासमझ लोग सड़क दुर्घटना से बचने के लिए नहीं बल्कि पुलिस से बचने के लिए सिर मे हैलमेट पहनने के वजाय मोटरसाइकिल में टांग कर चलने लगे। ठीक उसी तरह कोरोना वायरस से संक्रमित होने से बचने के लिए सरकार और विश्व स्वास्थ्य संगठन के द्वारा समाजिक दूरी बनाने और फेस मास्क का उपयोग अनिवार्य रूप से करने का निर्देश दिया गया। लेकिन वही हैलमेट वाली हाल बेचारी फेस मास्क की हुई, कई महीने बीत जाने के बाद भी लोग फेस मास्क लगाने से कतराते हैं। पुलिस की शख्ती को देखते हुए फेस मास्क को जेब में लेकर चलते हैं, ऐसा कर वे समझते हैं कि मैने पुलिस को धोखा दे निकल गया। ये लोग अगर फेस मास्क लगाते भी हैं तो मुंह या नाक पर नहीं वरण मुंह को ढक कर चलते हैं, ताकि लोग समझे कि इसे भी मास्क है।

संयोग से अगर पहने भी हैं तो लोगों से बात करने के समय या फिर भीड़ में घुसने पर उसे खोलकर जेब में रख लेते हैं, जबकि उसी समय अनिवार्य रूप से पहनने की आवश्यकता है। फेस मास्क का उपयोग नहीं करते हैं ? पूछने पर कहते हैं जी मैं हमेशा फेस मास्क रखता हूँ, कोई कोई तो कहता है कि मुझे देख कर ही कोरोना भाग जाएगा। अपने आप को पढे लिखे समझे जाने वाले लोग भी न तो समाजिक दूरी का पालन करते हैं और न ही फेस मास्क का उपयोग करते हैं। हां, कोरोना से भय जरूर लगता है। आज कोरोना वायरस तेजी से दूनिया में फैलने का कारण है अपने को पढे लिखे समझने वाले नासमझ लोगों के कारण ही। आज भी गाड़ी भरकर चल रहे हैं।

हाट बाजार में भी फेस मास्क का उपयोग न तो दूकानदार कर रहे हैं और न ही ग्राहक। बिना मास्क लगाये उच्च शिक्षा प्राप्त लोगों को भी तास भांजते देखा जा रहा है। इन लोगों को समझाने वाले लोग स्वयं बुद्धु बन जाते हैं। फिर कैसे हारेगा कोरोना? यह प्रश्न बनकर कौंध रहा है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
Close
%d bloggers like this: