JaisinghpurNationalSultanpurUttar Pradesh

बीएसएफ जवान का सैन्य व राजकीय सम्मान के साथ किया गया अंतिम संस्कार

रिपोर्ट प्रमोद यादव सुल्तानपुर। कूरेभार थाना क्षेत्र के बरौला के पास सड़क हादसे में बीएसएफ जवान अखिलेश तिवारी की मौत के बाद शनिवार को सैन्य व राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया। अंतिम विदाई के वक्त गांव के अलावा आस-पास के गांवों के लोग श्रद्धांजलि देने पहुंचे।

*वीओ -* गोसाईंगंज थाना क्षेत्र के देनवा गांव निवासी अखिलेश तिवारी (38) पुत्र देवेंद्र तिवारी बीएसएफ में कांस्टेबल के पद पर त्रिपुरा में तैनात थे। करीब एक माह पूर्व वह अवकाश पर अपने गांव आये हुए थे। शुक्रवार को पत्नी के साथ घर लौटते समय सड़क दुर्घटना में उनकी मौत हो गई। शनिवार को बीएसएफ के जवान का पार्थिव शरीर गांव पहुंचने पर परिवारीजनों में हाहाकार मच गया। शव देखकर मां, पत्नी व बच्चे तथा अन्य परिवारीजन बिलखकर रोने लगे। जवान के घर से बीएसएफ जवानों के नेतृत्व में पार्थिव शरीर को अंत्येष्टि स्थल हयातनगर गोमती तट तक लाया गया, जहां बीएसएफ की सलामी गारद की ओर से मातमी धुन के साथ गार्ड ऑफ ऑनर देते हुए अंतिम विदाई दी गई। बीएसएफ जवानों ने तिरंगे में लिपटे पार्थिव शरीर से तिरंगे को हटाकर शव को जवान के परिवारीजनों को सुपुर्द किया। पार्थिव शरीर को 8 वर्षीय बेटे अविरल ने मुखाग्नि दी। इस दौरान ‘जब तक सूरज चांद रहेगा, अखिलेश तेरा नाम रहेगा’, ‘भारत माता की जय’ आदि नारे गूंजते रहे। अखिलेश दो भाइयों में बड़े थे। परिवार में मां-पिता, पत्नी के अलावा दो बच्चे हैं। जवान की अंतिम विदाई के समय सांसद प्रतिनिधि रंजीत कुमार, भाजपा विधायक सूर्यभान सिंह,उप जिलाधिकारी राम अवतार, सीओ दलवीर सिंह, थानाध्यक्ष बीपी यादव, प्रधान मोनू चौबे, राजू चौबे, फुरकान खान, मोहम्मद समीर, डॉ विनय,ओमप्रकाश सिंह, अजमल खान, डीपी पाण्डेय, ओम प्रकाश शर्मा, इम्तियाज खान, किसान नेता रिजवान अहमद आदि ने श्रद्धांजलि दी।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
Close
%d bloggers like this: