BiharJandahaNationalVaishali
Trending

मनमानी वसूली को ले एआईएसएफ का रोषपूर्ण प्रदर्शन

रिपोर्ट व फोटो मोहम्मद शाहनवाज अता, हजरत जन्दाहा(वैशाली) इंटर नामांकन में विद्यार्थियों से मनमानी वसूली और सभी छात्राओं व एससी-एसटी के छात्रों से पीजी तक निःशुल्क शिक्षा के बिहार सरकार के आदेश का पालन करते हुए उनसे लिए जा रहे नामांकन शुल्क पर रोक लगाने को लेकर आज ऑल इण्डिया स्टूडेंट्स फेडरेशन (AISF) के बैनरतले छात्रों ने जन्दाहा के समता महाविद्यालय पर रोषपूर्ण प्रदर्शन किया।

इस दौरान छात्रों ने राज्य सरकार विरोधी नारे भी लगाए।इंटर नामांकन में अवैध वसूली बंद करो,राज्य सरकार के आदेशानुसार सभी छात्राओं व एससी-एसटी के छात्रों के लिए स्नातकोत्तर तक निःशुल्क शिक्षा का आदेश लागू करो,राज्य सरकार के आदेश के बावजूद छात्राओं एवं एससी-एसटी के विद्यार्थियों से पैसा क्यों लिया जा रहा है जबाव दो?कदम-कदम पर लड़े हैं तुमसे–कदम-कदम पर लड़ेंगे तुमसे आदि रोषपूर्ण नारे लगाए।मौके पर मौजूद एआईएसएफ के जिला सचिव सह राज्य परिषद सदस्य उत्तम कुमार ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार शिक्षा में पूरी तरह लफ्फाजी कर रही है। सरकार के आदेशानुसार सभी छात्राओं व एससी-एसटी के विद्यार्थियों की स्नातकोत्तर(पीजी) तक शिक्षा मुफ़्त है।

राज्य सरकार द्वारा पीजी तक नामांकन के समय किसी भी प्रकार के शुल्क लिए जाने पर रोक लगाई गई है।बावजूद कई कॉलेजों में इंटर नामांकन के वक़्त पैसा लिया जा रहा है।राज्य सरकार के आदेश में हीं कहा गया है कि कॉलेजों को हर वर्ष होनेवाली आर्थिक क्षति की भरपाई राज्य सरकार करेगी।लेकिन सरकार अपने वादे को भी पूरा नहीं कर रही है।एआईएसएफ के पूर्व अंचल अध्यक्ष विकास सिंह कुशवाहा ने कहा कि इंटर नामांकन में पिछले वर्षों की तुलना में नामांकन शुल्क में दोगुनी या उससे अधिक वृद्धि हुई है। जबकि कोरोना अवधि में लोगों की माली हालत काफी खराब हो गई है।इंटर नामांकन में अवैध वसूली सरकार तत्काल बंद करवाए अन्यथा संगठन चरणबद्ध आंदोलन को बाध्य होगा।इस दौरान एआईएसएफ के जिला परिषद सदस्य शंकर पंडित,अंचल परिषद सदस्य सुजीत कुमार महतो, दीपक कुमार ठाकुर, अभिषेक रंजन, दीपक कुमार,जिला उपाध्यक्ष सह राज्य परिषद सदस्य नीलम कुशवाहा शामिल हुए।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
%d bloggers like this: