BiharMuzaffarpurNational
Trending

मुहर्रम के मद्देनजर नियंत्रण कक्ष का दूरभाष नंबर 0621- 2212377 एवं 2216275 बनाया गया

चंदन कुमार, मुजफ्फरपुर: जिलाधिकारी मुजफ्फरपुर डॉक्टर चंद्रशेखर सिंह एवं वरीय पुलिस अधीक्षक जयंत कांत की संयुक्त अध्यक्षता में मुहर्रम/गणेश पूजा के अवसर पर विधि -व्यवस्था एवं शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारियों की ब्रीफिंग की गयी।संबंधित दंडाधिकारी एवं पुलिस अधिकारियों को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी डॉ० चंद्रशेखर सिंह ने कहा कि प्रतिनियुक्त सभी दंडाधिकारी एवं पुलिस अधिकारी गंभीरता पूर्वक अपने कर्तव्यों का निर्वहन करेंगे। इसमें किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

उन्होंने कहा कि सार्वजनिक स्टालों पर कोई प्रतिमा स्थापित नहीं की जाएगी।वहीं त्यौहार के दौरान झांकी एवं ताजिया निकलने पर भी पूरी तरह से प्रतिबंध रहेगा। उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिया कि कोरोना को देखते हुए सरकार द्वारा गणेश पूजा/मोहर्रम को लेकर निर्गत गाइडलाइन का अनुपालन सख्ती से करवाना सुनिश्चित करें। कहा कि गणेश पूजा एवं मुहर्रम पर्व के दौरान सार्वजनिक स्थल पर किसी प्रकार का धार्मिक कार्यक्रम की अनुमति नहीं होगी। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक स्थलों पर समूह में पर्व त्यौहार के आयोजन पर जनहित में रोक लगाई गई है ।उक्त अवधि में घरों में ही सुरक्षित तरीके से मुहर्रम मनाया जा सकता है। वरीय पुलिस अधीक्षक ने पुलिस पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए निर्देश दिया कि सभी थानाध्यक्ष /जमादार/ चौकीदार से एवं अन्य स्रोत के माध्यम से अपने क्षेत्रों की आसूचना का संकलन करेंगे एवं प्राप्त सूचना पर कार्रवाई करेंगे। उन्होंने कहा कि किसी भी सूरत में सड़कों पर कोई जुलूस नहीं निकलेगा।

उन्होंने कहा कि समुदाय/ जाति /वर्ग और मजहब के नाम पर लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाले कृत्यों के विरुद्ध सख्ती बढ़ती जाएगी। वहीं जिलाधिकारी ने कहा कि पर्व/ त्यौहार के दौरान या किसी भी अवसर पर यदिअफवाह फैलाई जाती है तो अफवाह फैलाने वाले के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई करें । संयुक्त ब्रीफिंग में निर्देश दिया गया कि संवेदनशील जगहों को चिन्हित करते हुए वहां विशेष चौकसी बरती जाए तथा 107 के तहत बाउंड डाउन करें। डीजे संचालकों को चेतावनी दे दी जाए कि पूजा पर्व के दौरान यदि किसी तरह का बाजा या डीजे का उपयोग किया गया तो न केवल उसे जब्त किया जाएगा बल्कि प्राथमिकी भी दर्ज की जाएगी। विधि व्यवस्था का संधारण एवं शांति व्यवस्था कायम करने के मद्देनजर 29 अगस्त से 31 अगस्त तक के लिए सेक्टर दंडाधिकारी , स्टैटिक दंडाधिकारी, सूचना संग्रहण पदाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी तथा पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति की गई है तथा जिला नियंत्रण कक्ष का गठन भी किया गया।

अनुमंडल पदाधिकारी पूर्वी पश्चिमी तथा संबंधित पुलिस उपाधीक्षक अपने क्षेत्र अंतर्गत उपरोक्त आदेश का अनुपालन सुनिश्चित कराएंगे। स्थानीय पी आई आर में जिला नियंत्रण कक्ष कार्य करेगा। जिला नियंत्रण कक्ष के वरीय प्रभार में अपर अनुमंडल पदाधिकारी पश्चिमी सुश्री पूजा प्रीतम होंगी। नियंत्रण कक्ष का दूरभाष नंबर 0621- 2212377 एवं 2216275 है। नियंत्रण कक्ष 29 अगस्त के 6:00 बजे पूर्वाहन से 31 अगस्त के 10:00 बजे रात तक कार्यरत रहेगा।

श्री राजेश कुमार अपर समाहर्ता एवं श्री नीरज कुमार सिंह पुलिस अधीक्षक नगर – विधि व्यवस्था हेतु जिले के संपूर्ण प्रभार में रहेंगे ।पूर्वी एवं पश्चिमी दोनों अनुमंडल में कूल 283 दंडाधिकारियों और सूचना संग्रहण पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गई है। साथ ही पर्याप्त संख्या में पुलिस बल को भी प्रतिनियुक्त किया गया है ।जबकि पूरे जिले को 9 सेक्टर में विभाजित करते हुए नौ सेक्टर अधिकारियों को भी प्रतिनियुक्त किया गया है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
%d bloggers like this: