BiharMuzaffarpurNational
Trending

राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 बाजारीकरण को बढ़ावा देने वाला : रंजीत

गोरौल के एआईएसएफ अंचलाध्यक्ष बने गौरव

रिपोर्ट व फोटो मोहम्मद शाहनवाज अता, गोरौल(वैशाली) रहसा-बांदे खेल मैदान में ऑल इंडिया स्टूडेंट फेडरेशन का तीसरा गोरौल अंचल सम्मेलन सम्पन्न हुआ।इस दौरान 21 सदस्यीय नए कमिटी का गठन किया गया।गौरव कुमार की अध्यक्षता में आयोजित सम्मेलन में नए कमिटी का गठन कर गौरव कुमार को अध्यक्ष,लक्की सिंह को सचिव,कृति आजाद को कोषाध्यक्ष एवं शशि कुमार को उपाध्यक्ष समेत अन्य पदों पर 14 सदस्यों को छात्रों ने सर्वसम्मति से चुना।

वहीं सात सदस्यों के लिए जगह रिक्त रखा गया है जिसे बाद में भरे जाने का निर्णय लिया गया।चौदह सदस्यीय कमिटी में गौरव कुमार,लक्की सिंह, कृति आजाद,शशि,मनीष,देवानंद,गुड्डू,गौतम, सुकेश,अनुराग पटेल,मोनू,भोला,संतोष एवं रोहन शामिल है।सम्मेलन को संबोधित करते हुए संगठन के राज्य अध्यक्ष रंजीत पंडित ने कहा नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020,शिक्षा का व्यवसायीकरण,बाजारीकरण को बढ़ावा देने वाला है।प्रति वर्ष दो करोड़ रोजगार का झांसा देकर आई मोदी सरकार ने नौकरियों को छिनने का रिकॉर्ड कायम किया है।सबसे ज्यादा नौकरी देने वाला सार्वजनिक सेक्टर रेलवे का तेजी के साथ निजीकरण किया जा रहा है।बैंक,एयरपोर्ट, पेट्रोलियम जैसे संस्थाओं को बेचा जा रहा है।

देश का जीडीपी लगातार गिर रहा है वही अम्बानी के संपत्ति लगातार बढ़ रहा है।ऐसे में प्रगतिशील छात्र संगठन के नाते एआईएसएफ़ की भूमिका बढ़ गई है।जिलाध्यक्ष प्रकाश कुमार ने कहा कि संगठन को मजबूत करने को लेकर किया जा रहा यह सम्मेलन गोरौल के छात्रों के लिए मिल का पत्थर साबित होगा।मौके पर मौजूद देसरी अंचल के अध्यक्ष मुकेश पटेल एवं संगठन के जिला परिषद सदस्य उदय शंकर ने नई कमिटी को बधाई देते हुए छात्रों के हित में काम करने को प्रेरित किया।मौके पर जितेश कुमार,रितिक रौशन,विश्वजीत कुमार,अमित कुमार सिंह,कुंदन कुमार,अभिषेक राज, सौरभ, प्रिंस राज शर्मा, प्रिंस कुमार पंडित,विजय,नीलेश,अंकुर आर्या, विनीत कुमार अलावे अन्य लोग शामिल हुए।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
%d bloggers like this: