NationalSultanpurUttar Pradesh

आयोग के निर्देशानुसार सभी राजनैतिक दल के प्रत्याशी आदर्श आचार संहिता का पालन करें -डीईओ

मतदाता किसी भी प्रकार की रिश्वत या प्रलोभन/बहकावे में न आये।

सुलतानपुर – भारत निर्वाचन आयोग एवं मुख्य निर्वाचन अधिकारी उ0प्र0 के मंशानुरूप लोक सभा सामान्य निर्वाचन-2019 को निष्पक्ष, शांतिपूर्ण एवं पारदर्शी तथा स्वतंत्रत रूप से कराये जाने हेतु जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी दिव्य प्रकाश गिरि ने बताया कि किसी भी व्यक्ति को किसी दल या प्रत्याशी के पक्ष में मतदान करने हेतु उकसाने के लिये नगद/किसी वस्तु के रूप में कोई रिश्वत या प्रलोभन अथवा देना-लेना दोनों भारतीय दण्ड संहिता की धारा-171ख के अन्तर्गत घोर दण्डनीय अपराध है। उन्होंने बताया कि कोई भी प्रत्याशी व राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ जनसामान्य को किसी भी व्यक्ति द्वारा किसी भी प्रत्याशी या व्यक्ति को डराने, धमकाने या चोट पहुंचाने की धमकी देना धारा-171ग के अन्तर्गत दण्डनीय अपराध है, जिसके अन्तर्गत एक वर्ष तक कठोर कारावास या जुर्माना या दोनों से दण्ड का भागी होगा। उन्होंने सभी राजनैतिक दलों तथा प्रत्याशियों से अपेक्षा की है कि आदर्श आचार संहिता का पालन अक्षरशः सभी करें।

जिला निर्वाचन अधिकारी श्री गिरि ने बताया कि उक्त प्रकार की गतिविधियों की रोकथाम एवं जांच के लिये प्रत्येक विधान सभा में तीन-तीन उड़नदस्ते एवं वीडियो निगरानी टीमें 24 घण्टे कार्यरत हैं, जो अपने-अपने क्षेत्र में सघन चेकिंग के साथ- साथ प्रत्येक गतिविधियों पर कड़ी नजर रखे हुए हैं। उन्होंने बताया कि ग्राम सभावार कड़ी निगरानी हेतु क्षेत्रीय लेखपाल व पंचायत सचिव को यह निर्देश दिये गये हैं कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में प्रत्येक गतिविधियों पर कड़ी निगरानी रखे । उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों/कर्मचारियों को यह भी निर्देश दिया गया है कि किसी संदिग्ध गतिविधियों की जानकारी मिलने पर अपने उच्च अधिकारियों को देने के साथ निर्वाचन कन्ट्रोल रूम को उपलब्ध करायेंगे। जिला निर्वाचन अधिकारी ने जनपद के सभी नागरिकों से अपील किया है कि किसी भी प्रकार की रिश्वत या प्रलोभन, लेन-देन से बचें और यदि कोई व्यक्ति इस प्रकार का प्रलोभन या रिश्वत देने की बात करता अथवा किसी भी प्रकार से डराता धमकाता है, तो आप जनपद के निर्वाचन शिकायत प्रकोष्ठ एवं काल सेन्टर के टोल-फ्री नम्बर-1950 पर किसी भी समय सूचित कर सकते हैं। निगरानी के लिये सभी अधिकारियों को भी निर्देश दिये गये हैं।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
%d bloggers like this: