NationalSultanpurUttar Pradesh

भाजपा नेत्री जिला मंत्री ने 41 बच्चों को नौकरी के लिए हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

 

जनपद सुलतानपुर – दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के तहत 18 वर्ष के बच्चों को सिलाई सिखाया जाता है। सिलाई सीखने में बच्चों को डेढ़ माह का समय लगता है। बच्चों के रहन-सहन ,खाना का खर्चा फ्री रहता है। बच्चों को ट्रेनिंग देने का काम दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल विकास मिशन के बैनर तले सहयोगी कंपनी आरीएन्ट क्राफ्ट लिमिटेड राजस्थान चोपनकी के द्वारा प्रशिक्षण दिया जाता है।

विदित रहे कि उक्त कंपनी से ट्रेनिंग पूरी करने के बाद बच्चों को इसी कंपनी में काम के लिए नौकरी पर रख लिया जाता है। नौकरी कर रहे बच्चों को 7 से ₹8 हजार प्रतिमाह वेतन दिया जाता है तथा बच्चों के रहने खाने की व्यवस्था कंपनी द्वारा फ्री रहता है।

इसी कड़ी में भाजपा नेत्री पूजा कसौधन ने तीन बेसहारा बेटियों को दीनदयाल उपाध्याय कौशल मिशन ग्रामीण में शिक्षा करवा रही हैं जिससे यह लड़कियां सरिता, ललिता, राधिका अपने पांव पर खड़ी हो सके। इनके मां-बाप अब इस दुनिया में नहीं है। अभी जल्द ही एक दुर्घटना में पंचतत्व में विलीन हो गए हैं* बताना जरूरी है कि उक्त संस्था से ट्रेनिंग पूरी कर चुकी 41 बच्चों को नौकरी करने के लिए पूजा कसौधान ने बस को हरी झंडी दिखाकर राजस्थान के लिए रवाना किया। बस को रवाना करते हुए भाजपा नेत्री जिला मंत्री पूजा कसौधन ने बच्चों को ट्रेनिंग दे रहे तथा इस योजना को सुचारू रूप से संचालित कर रहे रितुराज, सर्वेस तथा इनके सहयोगी आरिएन्ट क्राफ्ट लिमिटेड कंपनी को बधाई देते हुए समाज में बहुत ही सराहनीय समाजिक कार्य बताया।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
Close
%d bloggers like this: