BidupurBiharJan SamasyaNationalVaishali
Trending

चकठकुर्सी कुसियारि पँचायत के बालाटांर गांव स्थित मवेशी अस्पताल भवन अतिक्रमण का शिकार

न्यूज़ डेस्क, बिदुपुर। बिदुपुर प्रखण्ड के चकठकुर्सी कुसियारि पँचायत के बालाटांर गांव स्थित लाखो रुपये की लागत से लगभग बीस बाइस वर्ष पूर्व बने मवेशी अस्पताल भवन अतिक्रमण का शिकार है। वर्तमान समय मे मवेशी अस्पताल के बंद रहने से पशुपालकों को काफी परेशनियो का सामना करना पड़ता है। इस भवन का शिलान्यास वर्ष 1998 तत्कालीन विज्ञान प्रावैधिकी राज्य मंत्री राजेन्द्र राय  के द्वारा किया गया था। पूर्व मंत्री श्री राय के कार्यकाल के समय बिदुपुर प्रखण्ड का पांच पँचायत हाजीपुर विधान सभा मे था, उसमें चकठकुर्सी कुसियारि पँचायत भी था जिस कारण वे मवेशी अस्पताल भवन का शिलान्यास किया।

भवन का निर्माण भी हुआ परन्तु चिकित्सक की पोस्टिंग नही होने के कारण मवेशी अस्पताल शोभा की वस्तु बन गयी। वर्तमान समय मे आस पास के लोग इस भवन का सदुपयोग निजी कार्य के लिए करते है। मवेशी अस्पताल भवन के इर्द गिर्द गंदगी भी काफी देखे गए। यहां के पशुपालकों को बिदुपुर प्रखण्ड मुख्यालय स्थित पशु चिकित्सालय पर मवेशी के रोग आदि के लिए जाना पड़ता है। सरकार की राशि का  दुरुपयोग ही कहा जा सकता है। वर्तमान समय मे यह पँचायत राघोपुर विधान सभा क्षेत्र में है, इस क्षेत्र के विधायक पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजश्वी यादव है। उसके बाद भी विभाग द्वारा अस्पताल में डॉक्टर कर्मी आदि की पोस्टिंग नही किया गया है जिसके कारण पशुपालकों में काफी असन्तोष है।

क्या कहते हैं पदाधिकारी
वही बिदुपुर पशु चिकित्सालय के चिकित्सक डॉ विशाल शर्मा ने बताया कि पशुधन सहायक की कमी है जिसके कारण पशु धन सहायक नही जाते है। पशु धन सहायक की पोस्टिंग होते ही वे उक्त केंद्र पर भेज देंगे। बिदुपुर में अभी कुल दो हीं पशुधन सहायक मौजूद है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
Close
%d bloggers like this: