NationalSultanpurUttar Pradesh

पहली बार डिजिटल तरीके से होगा आर्थिक एवं सांख्यिकी विशलेषण

सातवीं आर्थिक गणना के लिए पर्यवेक्षको का जिला स्तरीय प्रशिक्षण पंडित रामनरेश त्रिपाठी सभागार सुल्तानपुर में सम्पन्न हुआ

                  सुल्तानपुर

जिले में आगामी 20 जून से सातवीं आर्थिक गणना शुरू हो रही है जिसे लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। पहली बार आर्थिक गणना को डिजिटल ऑनलाइन मोबाइल एप से किया जा रहा है। गणना के इस कार्य को गांवों में बने कॉमन सर्विस सेंटरों के सुपरवाइजरों के माध्यम से पूरा किया जाएगा। एक सुपरवाइजर के नीचे गांव के 10 ऑपरेटर कार्य करेंगे। जिले में 500 कॉमन सर्विस सेंटर के सुपरवाइजर को यह जिम्मा सौंपा गया है। आर्थिक गणना का कार्य जिला सांख्यिकी अधिकारी पन्नालाल मार्गदर्शन में होगा। आगामी तीन माह में गणना का कार्य पूरा किया जाएगा। गणनाकार ऑपरेटर डोर-टू-डोर जाकर सर्वे के कार्य को करेंगे। घर-घर जाने पर ही ऑनलाइन लोकेशन आपलोड होगी। सुपरवाइजरों के साथ ऑपरेटरों को उनके कार्य के लिए उचित राशि दी जाएगी। गणना का कार्य पूरी तरह से नि:शुल्क किया जाएगा।

 

पहली बार डिजिटल तरीके से होगा आर्थिक एवं सांख्यिकी विशलेषण

 

ज्ञात रहे कि भारत सरकार के सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय की ओर से प्रदेश के साथ-साथ सुलतानपुर जिले में 20 जून से 7वीं आर्थिक गणना कार्य शुरू किया जा रहा है। सुल्तानपुर में इस कार्य का जिम्मा आर्थिक एवं सांख्यिकी विश्लेषण विभाग को दिया गया है। खास बात यह है कि इस बार की गणना मेन्युअल ना करके डिजिटल तरीके से होगा । सांख्यिकी योजना विभाग के साथ-साथ कॉमन सर्विस सेंटरों के जिला प्रबंधक व जिला समन्वयक ने भाग लिया है। डिजिटल तरीके से की जा रही आर्थिक गणना में गांव के बेरोजगार युवाओं को शामिल किया गया है जो कि घर-घर जाकर परिवारों का आर्थिक सर्वे करेंगे। सर्वे में मुख्य रूप से परिवार के मुखिया का नाम, कुल सदस्य, व्यवसाय तथा सभी स्त्रोतों से प्राप्त अनुमानित परिवारिक आमदनी का बयौरा लिया जाएगा। कॉमन सर्विस सेंटर सुपरवाइजर सांख्यिकी एवं योजना अधिकारी इसमें सहयोग करेंगे। सर्वे टीम दिनभर परिवारों के पास जाकर आर्थिक गणना का डाटा एकत्र कर सायं को सीएससी के सुपरवाइजर को सौपेंगे। सुपरवाइजर एकत्र किए गए डाटा को अपनी देखरेख में तैयार कर जिला स्तर पर सांख्यिकी या प्लानिग अधिकारी के कार्यालय में भेजेंगे। जहां से डाटा प्रदेश व भारत सरकार को जाएगा। इस कार्यशाला में मुख्य अतिथि के रूप में अयोध्या मण्डल से एन एस एस ओ के वरिष्ठ सांख्यिकी अधिकारी महेश चंद्र मौर्य एवम् जिला अर्थ एवम् सांख्याधिकारी पन्नालाल उप सांख्यकी अधिकारी बी डी भारती, सुरेश मौर्य,संदीप,सूर्यकांत सिंह,हरिश चंद्र,आदि अधिकरी उपस्थित रहे। प्रशिक्षण दौरान श्री पन्नालाल ने सभी सीएससी संचालको को प्रशिक्षण देते हुये कहा कि भारत सरकार पहली बार आर्थिक गणना मोबाइल एप के माध्यम से कराने जा रही है। जिससे रियल टाइम डाटा कैप्चर किया जायेगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुये सीएससी जिला प्रबंधक विनोद यादव,सर्वेश कुमार यादव एवम उत्कर्ष ने बताया कि यह कार्य पहली बार काॅमन सर्विस सेंटर के माध्यम से कराया जा रहा है । इस मौके पर एडीएसटीओ बी डी भारती,सहित सीएससी संचालक रोशन सिंह, काली प्रसाद, शशिबल सिंह, आशीष,अनिल कुमार, संदीप मौर्य,सर्वेश यादव,जगनाथ पांडेय,विद्याधर,नवनीत सिंह, धनजयपाठक एवं जिले भर के सीएससी संचालक उपस्थित रहे।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
Close
%d bloggers like this: