NationalSultanpurUttar Pradesh

मतदाता फोटो पहचान पत्र के अतिरिक्त 11 वैकल्पिक फोटो पहचान पत्र मतदान के समय मान्य

मतदान दिवस पर सभी सम्मानित मतदाता अपने पोलिंग स्टेशन पर मतदान अवश्य करें. -डीएम

सुलतानपुर – जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी दिव्य प्रकाश गिरि ने देश का महा त्यौहार लोक सभा सामान्य निर्वाचन-2019 में 38-सुलतानपुर संसदीय क्षेत्र के सभी सम्मानित मतदाता को आमंत्रित किया है कि मतदान दिवस 12 मई (रविवार) को अपने पोलिंग स्टेशन पर निर्भीक होकर मतदान आवश्यक करके लोकतंत्र को मजबूत करने में अपनी अहम भूमिका निभाएं। उन्होंने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मतदाता को फोटो पहचान पत्र के विकल्प के सम्बन्ध में प्रतिरूपण को रोकने की दृष्टि से मतदान के समय मतदाता को अपनी पहचान सिद्ध करने का के लिये अपना मतदाता फोटो पहचान पत्र प्रस्तुत करना होगा, परन्तु ऐसे मतदाता जो अपना मतदाता फोटो पहचान पत्र नही है, उन्हें अपनी पहचान स्थापित करने के लिये 11 वैकल्पिक फोटो पहचान दस्तावेजों में से कोई एक पहचान पत्र मतदान के समय अपने साथ अवश्य लायें।

जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी श्री गिरि ने बताया कि आयोग ने मतदाता को मतदान के समय यदि मतदाता फोटो पहचान पत्र नही है, तो उन्हें अन्य वैकल्पिक फोटो पहचान पत्र की सुविधा दी गयी है, जिसमें पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेन्स, राज्य/केन्द्र सरकार के लोक उपक्रम पब्लिक लिमिटेड कम्पनियों द्वारा अपने कर्मचारियों को जारी किये गये फोटोयुक्त सेवा पहचान-पत्र, बैंकों/डाकघरों द्वारा जारी की गयी फोटो पासबुक, पैन कार्ड, एनपीआर के अन्तर्गत आरजीआई द्वारा जारी किये गये स्मार्ट कार्ड, मनरेगा जाब कार्ड, श्रम मंत्रालय की योजना के अन्तर्गत जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, फोटोयुक्त पेंशन दस्तावेज, सांसदों, विधायकों/विधान परिषद सदस्यों को जारी किये गये सरकारी पहचान पत्र, आधार कार्ड को दिखाकर मतदान लोक सभा सामान्य निर्वाचन-2019 में कर सकते हैं।

उन्होंने बताया कि आयोग की मंशा है कि एपिक में प्रविष्टियों की मामूली विसंगतियों को नजर अंदाज कर देना चाहिये, बशर्ते मतदाता की पहचान एपिक द्वारा सुनिश्चित की जा सके। यदि कोई मतदाता फोटो पहचान पत्र प्रदर्शित करता है, जो कि किसी अन्य विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र के निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी द्वारा जारी किया गया है, ऐसे एपिक भी पहचान स्थापित करने हेतु स्वीकृत किये जायेंगे, बशर्ते निर्वाचक का नाम, जहां वह मतदान करने आया है, उस मतदान स्थल से सम्बन्धित निर्वाचक नामावली में उपलब्ध होना चाहिये। फोटोग्राफ इत्यादि के बेमेल होने के कारण मतदाता की पहचान सुनिश्चित करना सम्भव न हो, तब मतदाता को उपरोक्त वैकल्पिक फोटो दस्तावेज को प्रस्तुत करना होगा।

उन्होंने बताया कि आयोग ने कहा है कि उपरोक्त किसी भी बात के होते हुए भी प्रवासी निर्वाचक, जो अपने पासपोर्ट में विवरणों के आधार पर लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम, 1950 की धारा 20क के अधीन निर्वाचक नामावलियों में पंजीकृत हैं, उन्हें मतदान केन्द्र में उनके केवल मूल पासपोर्ट (तथा किसी अन्य पहचान दस्तावेज के आधार पर नहीं) के आधार पर ही पहचाना जायेगा।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
%d bloggers like this: