BachwaraBegusaraiBiharNationalPolitics
Trending

कड़ी धुप में भी दिखा मतदान के प्रति लोगो में उत्साह,बछवाड़ा में 62 प्रतिशत हुआ मतदान

चुनाव डेस्क, रिपोर्ट: राकेश कुमार, बछवाड़ा (बेगूसराय)। लोक सभा चुनाव के चौथे चरण का मतदान कड़ी धुप के बाबजूद लोगो में मतदान का उत्साह साफ दिख रहा था। कड़ी धुप में भी महिला और पुरुष मतदान के लिए लाइन में लगे रहे। सुबह वोटिंग शुरू होने से पहले प्रखंड के विभिन्न बूथ केन्द्रों पर लोगो का हुजूम कतारों में लग गए थे। दिव्यांग से लेकर सीनियर सिटीजन और पहली बार वोट डालने जा रहे युवाओं तक किसी के जोश में कमी नहीं देखी गई।  बछवाड़ा प्रखंड में 128 मतदान केन्द्रों पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच सुबह सात बजे मतदान शुरू किया गया और शाम 6 बजे मतदान समाप्त हुआ।

प्रखंड निर्वाची पदाधिकारी डॉ विमल कुमार ने बताया कि बछवाड़ा प्रखंड में 62 प्रतिशत  मतदान हुआ। वही बुथ संख्या 129,88,पर ईवीएम मशीन में खराबी आने के कारण आधे घंटे बिलम्ब से मतदान शुरू किया गया। वही बूथ संख्या 175,118 व 107 पर ईवीएम मशीन ख़राब होने के कारण एक घंटा बिलम्ब से मतदान शुरू हुआ। पुरे प्रखंड में पुरुष से ज्यादा महिला मतदाताओ ने मतदान में बढ़ चढ़ कर भाग लिया। वही दियारे के पांच पंचायत के विभिन्न बूथ पर महिलाओ की काफी भीड़ देखी गई। सुबह से ही महिला मतदान के लिए बूथ पर कतार में खड़े हो गये। मतदान में शांति बनाये रखने व भय मुक्त वातावरण के लिए जगह-जगह घोड़ सवार जवानो को लगाया गया था।मतदान को लेकर सभी सेक्टर अधिकारी समेत पुलिस बल दिन भर विभिन्न बुथो पर पेट्रोलिंग करते दिखे।
बीएलओ की लापरवाही से मतदाता मतदान से रहे वंचित

लोकसभा चुनाव के दौरान सोमवार को प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न मतदान केन्द्र पर पर्ची नही मिलने से मतदाता को इस बूथ से उस बुथ का चक्कर दिन भर लगाना पड़ा। मतदान केन्द्र संख्या 132 बेगमसराय में करीब एक सौ मतदाता का नाम मतदाता सूची में नही रहने,कुछ मतदाताओ को बीएलओ द्वारा मृत घोषित कर डिलीट रहने के कारण वोट से वंचित रहना पड़ा। मतदाता अभिषेक कुमार,पंकज कुमार,सुवेश कुमार झा लक्ष्मी देवी,सुनीता देवी,हेमंती देवी समेत दर्जनो लोगो ने बताया कि बीएलओ के द्वारा मतदान के लिए मिलने वाली पर्ची नही देने के कारण कड़ी धुप में इस बुथ से उस बुथ का चक्कर लगाते रहे। अन्त में उन्हे राजनीतिक दल के पास पहुचकर घंटो इंतजार करने के बाद भी उन्हे मतदान से वंचित रहना पड़ा। वही कुछ मतादाता जिंदा रहते हुए उनके नाम को वोटर लिस्ट से डिलीट कर दिया गया,जबकी कुछ मतदाताओ का नाम वोटर लिस्ट में मौजूद नही रहने के कारण उन्हे वोट गिराने से वंचित रहना पड़ा। मतदाताओ ने कहा की मामले को लेकर कई पदाधिकारी से फोन पर बात की गई लेकिन कोई सुधार नहीं हो सका।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
Close
%d bloggers like this: