वाणीश्री न्यूज, पटना जातीय जनगणना के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बिहार के डेलिगेशन यह मुलाकात खत्म हो गई है. प्रधानमंत्री से मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उम्मीद जताई है कि जातीय जनगणना को लेकर केंद्र सरकार जरूर सही फैसला लेगी. नीतीश कुमार ने कहा है कि प्रधानमंत्री ने हमारी बात सुनी है.जातिगत जनगणना को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मीडिया से बातचीत की और उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने हमारी पूरी बात सुनी.

सबने जातिगत जनगणना के पक्ष में एक-एक बात कही है. उन्होंने हमारी बात को नकारा नहीं है, हमने कहा है कि इस पर विचार करके आप निर्णय लें.बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जातिगत जनगणना को लेकर हमारी बात गंभीरता से सुना है, अब हम लोगों को उनके निर्णय का इंतज़ार है. उधर बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने कहा कि हमने प्रधानमंत्री से कहा कि हर हालत में जातिगत जनगणना कराएं, ये ऐतिहासिक निर्णय होगा. उन्होंने बहुत गंभीरता से हमारी बात सुनी है. इसलिए हमें लगता है कि जल्दी ही कोई निर्णय होगा.

इस दौरान मुख्यमंत्री के साथ नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव, जनता दल यूनाइटेड से बिहार के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी, बीजेपी से मंत्री जनक राम, कांग्रेस विधायक दल के नेता अजीत शर्मा, सीपीआई माले विधायक दल के नेता महबूब आलम, एआईएमआईएम विधायक दल के नेता अख्तरुल इमान, हम विधायक दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी, वीआईपी के अध्यक्ष और बिहार सरकार के मंत्री मुकेश सहनी, सीपीआई विधायक दल के नेता सूर्यकांत पासवान और सीपीएम विधायक दल के नेता अजय कुमार इस प्रतिनिधिमंडल में मौजूद थे.

 

Google search engine
Previous articleकर्मचारियों के लिए एक खुशखबरी का एलान कर सकती है मोदी सरकार
Next articleमृणालिनी अखौरी ने “श्रावण कला उत्सव” में दी प्रस्तुति