पंचायत प्रतिनिधियों को भी मिलनी चाहिए विधायक के बराबर की सुविधाएं, भत्ता और पेंशन : जाप प्रदेश सचिव

तरैया विधानसभा क्षेत्र से विधायक प्रत्याशी रह चुके जन अधिकार पार्टी लोकतांत्रिक के प्रदेश सचिव संजय कुमार सिंह ने तरैया स्थित अपने कार्यालय पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करके पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि जनता द्वारा निर्वाचित सभी पंचायत प्रतिनिधियों को विधायक के बराबर सुविधाएं भत्ता और पेंशन मिलना चाहिए। क्योंकि सभी जनता के चुने हुए प्रतिनिधि हैं। ऐसे में भेदभाव करना उचित नहीं है। वार्ड सदस्यों पर विशेष ध्यान देते हुए उन्होंने कहा कि हमारे राज्य की सरकार वार्ड सदस्यों के साथ बिल्कुल ही सौतेला व्यवहार कर रही है। क्योंकि जिस जनता ने ईवीएम मशीन का बटन दबाकर विधायक को चुना, वही जनता उसी ईवीएम का बटन दबाकर अपना वार्ड सदस्य भी चुनती है। लेकिन बहुत दुख की बात है कि उस वार्ड सदस्य को एक महीने के लिए पांच सौ रुपये भत्ता दिया जाता है। यह हमारे सरकार के हुक्मरानों के लिए एक कप चाय के बराबर है और एयर कंडीशन रूम में बैठ कर नीति निर्धारण करने वाले हमारे हुक्मरानों को यह ध्यान जरूर रखना चाहिए कि जनता द्वारा चुने गए प्रतिनिधि को अगर सरकार उनकी दैनिक मजदूरी और खर्चे के हिसाब से भत्ता उपलब्ध नहीं कराएगी तो सरकारी योजनाओं में ईमानदारी की अपेक्षा कैसे कर सकते हैं।

इसी प्रकार ग्राम पंचायत के मुखिया, सरपंच, पंचायत समिति सदस्य एवं जिला परिषद प्रतिनिधियों के विषय में उन्होंने कहा कि जनता द्वारा निर्वाचित कोई भी प्रतिनिधि सुबह से शाम तक अपना सारा दिन और संसाधन जनता की सेवा में खर्च करता है तो ऐसे में सरकार द्वारा उन्हें उचित सुविधा भत्ता और पेंशन मिलना चाहिए ताकि वह इमानदारी पूर्वक अपना काम कर सकें। राजनीतिक गलियारों में संजय कुमार सिंह के एमएलसी प्रत्याशी होने की चर्चा भी जोरों पर है। लेकिन पत्रकारों द्वारा एमएलसी चुनाव लड़ने की बात पूछने पर वे इस सवाल को टाल गए और कहा कि हम जनता के सेवक हैं जनता जहां चाहेगी हम वहां हमेशा खड़े मिलेंगे।

उनके इस जवाब को सुनकर भी उनके एमएलसी प्रत्याशी बनने की चर्चा जोर पकड़ने लगी है। लेकिन वे एमएलसी का चुनाव लड़े या ना लड़ें उनके द्वारा उठाया गया मुद्दा पूरे बिहार के जनप्रतिनिधियों के मन को भा रहा है और सभी इसकी सराहना कर रहे हैं कि दिनभर जनता के लिए समय देने वाले जनप्रतिनिधियों को उचित सुविधा भत्ता और पेंशन मिलना चाहिए। प्रेस कॉन्फ्रेंस में जन अधिकार पार्टी के वरिष्ठ छात्र नेता वासु विकास ने कहा कि यूं तो एमएलसी का चुनाव हमेशा होता है लेकिन इस चुनाव का महत्व सेटिंग गेटिंग के मतदान तक ही सिमट कर रह गया था। इसलिए हमारे नेता संजय कुमार सिंह के नेतृत्व में इस बार हम लोग पंचायत प्रतिनिधियों को एक आदर्श एमएलसी के रूप में अपना प्रतिनिधि सदन में भेजने के लिए जागरूक करेंगे। उन्होंने बताया कि हम लोग पंचायतों में पहुंचकर सभी नवनिर्वाचित जनप्रतिनिधियों को सम्मानित कर रहे हैं और उन्हें अपने मतदान का महत्व समझाते हुए एक आदर्श व्यक्ति को अपना प्रतिनिधि बनाकर सदन में भेजने के लिए प्रेरित कर रहे हैं।

Ankit Kumar

Related Posts

परिवर्तनकारी शिक्षक महासंघ ने किया मांग शिक्षकों पर हुई कार्रवाई की हो वापसी

वाणीश्री न्यूज़, पटना। परिवर्तनकारी शिक्षक महासंघ के प्रदेश कार्यकारी संयोजक नवनीत कुमार एवं प्रदेश संगठन महामंत्री शिशिर…

Continue reading
छात्रों और शिक्षकों के लिए राहत की खबर 11 से 15 जुन तक विद्यालय में रहेगा अवकाश

छात्रों और शिक्षकों के लिए राहत की खबर, सन्नी सिन्हा ने दिया आदेश, 11 से 15 जुन…

Continue reading

You Missed

परिवर्तनकारी शिक्षक महासंघ ने किया मांग शिक्षकों पर हुई कार्रवाई की हो वापसी

परिवर्तनकारी शिक्षक महासंघ ने किया मांग शिक्षकों पर हुई कार्रवाई की हो वापसी

छात्रों और शिक्षकों के लिए राहत की खबर 11 से 15 जुन तक विद्यालय में रहेगा अवकाश

एक महीने के भीतर गांव में सोलर स्ट्रीट लाइट का शत प्रतिशत अधिष्ठापन कराएं : डीएम

एक महीने के भीतर गांव में सोलर स्ट्रीट लाइट का शत प्रतिशत अधिष्ठापन कराएं  : डीएम

तेघड़ा में फ्लाईओवर बनाने की माँग हुई तेज

तेघड़ा में फ्लाईओवर बनाने की माँग हुई तेज

संत पॉल पब्लिक स्कूल तेघड़ा में समर कैम्प शुरू, बच्चों को मिल रहा विशेष शिक्षा

संत पॉल पब्लिक स्कूल तेघड़ा में समर कैम्प शुरू, बच्चों को मिल रहा विशेष शिक्षा

भीषण गर्मी व लू से बचाव को लेकर अधिकारियों को डी.एम ने दिए कई निर्देश

भीषण गर्मी व लू से बचाव को लेकर अधिकारियों को डी.एम ने दिए कई निर्देश