पासोपुर गांव से एक दिन में उठी दो अर्थी

Advertisement

मृत्युंजय कुमार, भगवानपुर (बेगूसराय) प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत पासोपुर गांव में एक दिन में दो लोगों का असामयिक निधन हो जाने से पूरे गाँव में शोक की लहर दौड़ गई. प्राप्त जानकारी के अनुसार पासोपुर निवासी वार्ड 13 के वार्ड सदस्य आलोक भारती के पत्नी करीब 30 वर्षीय आशा कर्मी नीलू कुमारी एवं दामोदरपुर पंचायत के पूर्व सरपंच पति भाकपा कार्यकर्ता रामशोभित महतों का अचानक निधन हो जाने के कारण मृतक के परिजनों में कोहराम मच गया.

बताया जाता है कि मृतक आशा कर्मी नीलू कुमारी को गुरुवार को शाम में अचानक पेट में दर्द शुरू हुआ, उनके परिजनों के द्वारा बेगूसराय स्थित किसी निजी क्लिनिक में इलाज के लिए ले जाया गया, इलाज के दौरान नीलू कुमारी ने अपना दम तोड़ दिया. इसकी जानकारी मिलते ही मृतक के परिजनों में कोहराम मच गया.

Advertisement

मृतक का शव गांव आते ही शव को देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी. उक्त घटना से ग्रामीण स्तंभ थे. मृतक अपने पीछे दो पुत्री को छोड़ कर चल बसे. बड़ी पुत्री करीब 10 वर्षीय शाम्भवी एवं छोटी पुत्री करीब छः वर्षीय मानवी है. अबोध बच्ची भी अपनी मां के शव को पकड़ कर रो रही थी. परिजनों के चीत्कार भरी रुदन से ग्रामीण भी गमगीन थे.

वहीं दूसरी ओर उक्त गांव निवासी पूर्व सरपंच पति भाकपा कार्यकर्ता करीब 48 वर्षीय रामशोभित महतों का हृदय गति रुक जाने से निधन हो जाने से मृतक के परिजनों में कोहराम मच गया.

एक शव का दाह संस्कार खत्म भी नहीं हुआ था कि दूसरे व्यक्ति के मौत का खबर सुनकर ग्रामीण हैरान हो गए. मृतक रामशोभित महतों भी स्वस्थ रहते थे. अचानक मौत हो जाने से मृतक के परिवार सहित ग्रामीण भी स्तंभ हो गए. मृतक रामशोभित का निधन आजीवन भाकपा कार्यकर्ता के रूप में हुई. उपस्थित भाकपा नेता अशोक राय ने उनके निधन से पार्टी को अपूरणीय क्षति बताया.

उनके निधन की खबर मिलते ही प्रखंड प्रमुख इंद्रजीत कुमार, मुखिया प्रतिनिधि उपेंद्र सहनी, पूर्व मुखिया प्रतिनिधि सुजीत कुमार, भाकपा अंचलमंत्री रामचंद्र पासवान, सहायक अंचलमंत्री अशोक राय, पूर्व अंचलमंत्री अखिलेश्वर प्रसाद सिंह, जिला परिषद सदस्य रामप्रकाश पासवान, मोहम्मद शकील अहमद, चंदन कुमार, उचित ताँती, रणधीर कुमार सहित सैकड़ों ग्रामीण पहुंच कर मृतक के परिजनों को सांत्वना देते हुए शोक प्रकट किए. वहीं भाकपा कार्यकर्ताओं द्वारा उनके पार्थिव शरीर पर लाल झंडा समर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दिए.

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here