पेट्रोल-डीजल की कीमतों में हो रही बढ़ोत्तरी के विरोध में एसडीपीआई का प्रदर्शन

0
63
Advertisement

हाजीपुर(वैशाली)सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इण्डिया (एस. डी. पी. आई.) की और से बिहार प्रदेश में कोरोना गाईडलाईन के तहत प्रदेश भर में विरोध प्रदर्शन कर पेट्रोल डीजल में हो रही मूल्य वृद्धि व राज्य सरकार द्वारा लिए जा रहे अधिकतम कर (टैक्स) को कम करने की मांग की गई। इस दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी कर बढ़ती कीमतों पर अपना रोष प्रकट किया।

 

Advertisement

प्रदेश अध्यक्ष नसीम अख्तर खान ने बताया कि एक ओर आम जनता कोरोना की मार झेल रही है वहीं दूसरी ओर केन्द्र सरकार द्वारा तेल की कीमतों में लगातार वृद्धि करे जा रही है। जिसका खामियाजा आम जनता को भुगतना पड़ रहा है। पेट्रोल पर 32.90 रू व डीजल पर 31.80 रू प्रति लीटर टैक्स अधिक किया जा रहा है वहीं दूसरी ओर राज्य सरकार द्वारा भी पेट्रोल पर 36 प्रतिशत व डीजल पर 26 प्रतिशत अधिकतम टैक्स लिया जा रहा है ।उन्होंनें कहा कि भाजपा के सत्ता में आने से पूर्व मार्च 2014 में 10.38 रू प्रति लीटर टैक्स था जबकि वर्तमान में फरवरी 2021 तक यह बढ़कर 32.90 रू प्रति लीटर पंहुच गया है।

 

सरकारों को चाहिए कि वह सबसे ज्यादा आवश्यक वस्तुओं में शामिल पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि को रोके व इस पर लगने वाले करों में कटौती करें जिससे आमजन को किराया से लेकर मालभाड़ा व दैनिक उपयोगी चीजों में भी कमी किए जाने से राहत मिल सकेगी।वहीं वैशाली जिला के चेहराकलां प्रखंड के अबाबकरपुर व पातेपुर प्रखंड के काबा चिकनौटा में प्रदर्शन कर पेट्रोल-डीजल की कीमतों को कम करने की मांग करते हुए एसडीपीआई के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया।इस मौके पर मुर्तजा आदि मौजूद रहे।
रिपोर्ट:  मोहम्मद शाहनवाज अता।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here