शीतलपुर कमालपुर एवं मथुरा पँचायत के विभिन्न सरकारी योजनाओं एवं कार्यालयों का हुआ औचक निरीक्षण

Advertisement

बिदुपुर। बिदुपुर प्रखण्ड के दो पंचायतो शीतलपुर कमालपुर एवम मथुरा पँचायत के विभिन्न सरकारी विद्यालयों, योजनाओ, आंगनवाड़ी केंद्रों, जन वितरण प्रणाली की दुकानों की जांच बीडीओ किरण कुमारी एवम सीओ रवि राज ने अलग अलग किया। बीडीओ किरण कुमारी ने शीतलपुर कमालपुर पँचायत के मध्य विद्यालय बिदुपुर का निरीक्षण के क्रम में वर्ग प्रथम के आनंदशाला में जाकर बच्चों से पूछताछ किये। वही वर्ग षष्टम,सप्तम एवम अष्टम में गयी और विद्यार्थियों से पूछताछ किये। वर्ग रूटीन के सम्बन्द्घ में जानकारी ली।वही मध्याह्न भोजन का भी निरीक्षण की।उसके बाद प्रधानाध्यापक उदय शंकर सिंह के कार्यालय कक्ष में बैठकर वर्ग संचालन के सम्बन्द्घ में पूछताछ की।

Advertisement

वही निरीक्षण पुस्तिका, विद्यालय शिक्षा समिति की बैठक की पंजी, शिक्षक अभिभावक बैठक पंजीआकस्मिक अवकाश संधारण पंजी, उपस्थिति पंजी आदि देखी। बीडीओ किरण कुमारी विद्यालय की व्यवस्था से संतुष्ट दिखी।

इसके बाद वे पँचायत के जन वितरण प्रणाली,आंगनवाड़ी केंद्र 50 की जांच वार्ड 13 मे की। उन्होंने बच्चा कम रहने एवम पंजी अद्यतन नही रहने पर सेविका से पूछताछ किये। वार्ड 06 में सात निश्चय योजना से निर्मित पथ की जांच की।वार्ड 05 में प्रधानमंत्री आवास योजना की जांच की।मनरेगा से सम्बंधित योजनाओं की भी जांच किये।इस अवसर पर बीआरपी अंजनी रंजन, पीआरएस विक्रम कुमार, आवास सहायक मनीष कुमार आदि उपस्थित थे।

वही दूसरी ओर सीओ रवि राज ने मथुरा पँचायत के मथुरा स्थित संस्कृत प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण किये। विद्यालय कक्ष में एक भी बल्ब नही रहने के कारण अंधेरे में बैठे बच्चे को देखकर सीओ रवि राज विफर गए और एचएम को कक्ष में बल्ब लगाने को कहा। वही नामांकन के अनुसार उपस्थिति कम रहने के साथ साथ वर्ग पंचम के उपस्थिति पंजी में 20 विद्यार्थियों के उपस्थिति वग शिक्षक के द्वारा बनाया गया था,जबकि वर्ग में मात्र 07 विद्यार्थी ही उपस्थित थे। सीओ श्री रवि राज ने वर्ग शिक्षक को फटकार लगाया। इसके बाद सीओ ने आंगनवाड़ी केंद्र संख्या 148 का निरीक्षण किया,यहां साफ सफाई रखने और पंजी अद्यतन करने का निर्देश दिया।

 

स्वास्थ्य उपकेंद्र मथुरा जो किराए के भवन में चलती है बंद पाए गए, जबकि एएनएम की ड्यूटी है। मथुरा के दो जन वितरण प्रणाली की दुकानों की जांच के दौरान इपॉस मशीन के अनुसार पंजी संधारित में अंतर पाए गए। साथ ही साथ अन्य योजनाओं की भी जांच किये गए।इस अवसर पर ग्राम कचहरी सचिंव दिलीप कुमार आदि उपस्थित थे।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here