टीचर्स ऑफ बिहार के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म कुटुंब एप्प पर एक वर्ष के अंदर शामिल होने वाले सदस्यों की संख्या हुई 50000 के पार

Advertisement

टीचर्स ऑफ बिहार के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म कुटुंब एप्प पर उत्कृष्ट योगदान देने वाले बिहार के शिक्षक किए जायेंगे सम्मानित

गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और शैक्षिक बेहतरी के लिए शिक्षक, सरकार और शिक्षा से जुड़े तमाम हिताधिकारियों के द्वारा वर्तमान में अनेकानेक प्रयास किये जा रहे हैं।

इन प्रयासों को शैक्षिक बेहतरी के लिए सभी शिक्षकों एवं बच्चों तक साझा किया जाना वर्तमान समय की मांग है। इन्हीं उद्देश्यों की पूर्ति के लिए पटना जिले के शिक्षक शिव कुमार के द्वारा निर्मित बिहार की सबसे बड़ी प्रोफेशनल लर्निंग कम्युनिटी टीचर्स ऑफ बिहार शिक्षकों के द्वारा, शिक्षकों के लिए, शिक्षकों का एक ऐसा अभिनव मंच है जो शिक्षा से जुड़े सभी हिताधिकारियों के द्वारा किये जा रहे शैक्षिक प्रयासों को साझा करने, नवाचारों से सीखने और लागू करने का अवसर और पहचान प्रदान करता है। वर्तमान में टीचर्स ऑफ बिहार के कई सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म सक्रिय है जिससे बिहार के लाखों शिक्षक जुड़े हुए हैं। इन्हीं सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की सूची में शामिल कुटुंब एप्प पर मात्र एक वर्ष में ही शिक्षक एवं शिक्षिकाओं की संख्या 50 हजार से भी अधिक हो गई गई है।

Advertisement

टीचर्स ऑफ बिहार के कुटुंब ऐप मॉडरेटर मुजफ्फरपुर जिले के शिक्षक केशव कुमार ने कहा कि एक वर्ष के अंदर कुटुंब एप्प पर सदस्यों की संख्या 50 हजार से अधिक होने में बिहार के कुछ ऐसे शिक्षक हैं जिनका सर्वाधिक योगदान रहा है। जिसमें सर्वाधिक सदस्यों को शामिल करने वालों की सूची में पहला पूर्वी चंपारण जिले के शिक्षक मृत्युंजय कुमार, दूसरा सहरसा जिले के शिक्षक अनमोल कुमार निराला एवं तीसरा कटिहार जिले के शिक्षक सुभाष कुमार यादव का नाम शामिल है। वहीं सर्वाधिक प्रतिष्ठा प्वाइंट प्राप्त करने वालों की सूची में पहला पूर्वी चंपारण जिले के शिक्षक मृत्युंजय कुमार, दूसरा पूर्वी चंपारण जिले के शिक्षक विनोद पाण्डेय, तीसरा लखीसराय जिले के शिक्षक उमेश नारायण महतो का नाम शामिल है।

साथ ही सर्वाधिक पोस्ट करने वालों की सूची में पहला मुजफ्फरपुर जिले के शिक्षक केशव कुमार, दूसरा भागलपुर जिले के शिक्षक संजय कुमार एवं तीसरा लखीसराय जिले के शिक्षक उमेश नारायण महतो का नाम शामिल है।
टीचर्स ऑफ बिहार के फाउंडर पटना जिले के शिक्षक शिव कुमार ने कहा कि बिहार के शिक्षकों के हित में कुटुंब एप्प पर अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान देने वाले उपरोक्त सभी शिक्षकों को सम्मान स्वरूप प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाएगा। उन्होंने बिहार के शिक्षकों से अपील करते हुए कहा है कि टीचर्स ऑफ बिहार के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म कुटुंब एप्प से बिहार के जो भी शिक्षक एवं शिक्षिका अभी तक नहीं जुड़े हैं वे अविलंब जुड़कर अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दे। जिससे एक बेहतर, समृद्ध और शैक्षिक रूप से समुन्नत बिहार का नव निर्माण हो सके।

उक्त जानकारी टीचर्स ऑफ बिहार के प्रदेश प्रवक्ता अररिया जिले के शिक्षक रंजेश कुमार एवं मो. नसीम अख्तर, मीडिया प्रभारी, तिरहुत प्रमंडल, टीचर्स ऑफ़ बिहार ने संयुक्त रूप से दी।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here