सावन के अंधे को हर तरफ हरियाली ही दिखती है : कुशवाहा

The blind of Sawan see only greenery everywhere: Kushwaha
Advertisement

रिपोर्ट: मोहम्मद शाहनवाज अता, हाजीपुर(वैशाली)पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं जदयू संसदीय बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि नीतीश कुमार की सरकार गिराने के बयान देने वाले मुंगेरीलाल के हसीन सपने देख रहे हैं। सुर्खियों में रहने के लिए कुछ भी बोल देना कुछ लोगों की आदत बन गई है। उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि सावन के अंधे को हर तरफ हरियाली ही दिखती है।वैसे लोगों का सपना कभी पूरा नहीं होने वाला। नीतीश कुमार पूरी मजूबती से सरकार चलाते रहेंगे और कुछ लोगों के कलेजे पर सांप लोटते रहेगा।

यह बातें उन्होंने जंदाहा प्रखंड के विभिन्न गांवों में कोरोना संक्रमण से जान गंवाने वाले मृतक के स्वजनों से मिलकर उन्हें ढांढस बंधाने के दौरान पत्रकारों के सवाल का जवाब देते हुए कही। मालूम हो कि जंदाहा के अरनियां निवासी दुखन सिंह की पुत्रवधू आरती कुमारी, इसी गांव के निवासी रेलकर्मी विशुनदेव सिंह तथा सलहा निवासी जन वितरण प्रणाली विक्रेता सुधीर प्रसाद की पिछले दिनों कोरोना के चपेट में आने से मौत हो गई थी। कुशवाहा इनके शोक संतप्त स्वजनों से मिलने उनके आवास पहुंचे थे।

Advertisement

मृतक के स्वजनों को सांत्वना देते हुए उन्होंने कहा कि इस महामारी में उनके कई नजदीकी लोगों की मौत हो गई। लेकिन वह चाह कर भी लॉकडाउन की वजह से नहीं पहुंच सके।अब जब गाइडलाइन में छूट मिली है तब इन परिवारों से मिलकर सांत्वना दे रहे हैं। कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को लेकर कुशवाहा ने लोगों से आग्रह किया कि इसके लिए सभी सतर्क रहें। संक्रमण से बचाव के लिए कोरोना का टीका अवश्य रूप से ले लें।इसमे लापरवाही नहीं बरतें। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एवं उनका प्रयास है कि सभी लोगों को टीका अवश्य लग जाए।इस दौरान कई जगह टीका उपलब्ध नहीं होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि बहुत जल्द इस पर पहल कर टीका उपलब्ध करवाएंगे।

इस मौके पर जदयू प्रदेश उपाध्यक्ष जितेंद्र नाथ,कमल प्रसाद सिंह, ब्रजेंद्र कुमार पप्पू ,त्रिवेणी कुमार चौधरी, राजेश कुशवाहा,शिवशंकर प्रसाद सिंह,भूपेंद्र शर्मा,अमरेंद्र कुमार मंटू, सुरेश सिंह,गोपाल सिंह,इंद्रजीत चौधरी,सौरभ वर्मा,संजीव कुमार सिंह आदि उपस्थित थे।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here