सैदपुर गणेश पँचायत के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों एवं चकसिकन्दर कल्याणपुर पँचायत के पँचायत सरकार भवन का जिलाधिकारी ने किया निरीक्षण

Advertisement

वाणीश्री न्यूज़, बिदुपुर। वैशाली जिलाधिकारी यशपाल मीणा ने बिदुपुर प्रखण्ड के सैदपुर गणेश पँचायत के  बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों एवं चकसिकन्दर  कल्याणपुर पँचायत के पँचायत सरकार भवन का बुधवार की शाम को अचानक पहुंचकर निरीक्षण किया। प्राप्त जानकारी के अनुसार जिलाधिकारी यशपाल मीणा लगभग तीन बजे के करीब पूरे दल बल के साथ सैदपुर गणेश पँचायत के वार्ड 09 एवं 13 के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का पैदल चलकर सड़क से ही अवलोकन किया। उन्होंने अंचलाधिकारी रवि राज से सरकारी नाव के सम्बन्द्घ में जानकारी भी प्राप्त किया और स्थिति पर लगातार नजर बनाए रखने, नियमित रूप से अनुश्रवण करने एवं छोटी नावों की पर्याप्त उपलब्धता कराने का निर्देश दिया। वही प्रभावित लोगों के समस्या के सम्बन्द्घ में लोगो से जानकारी लिया। डीएम के द्वारा पँचायत भवन के बंद रहने और आरटीपीएस चालू नही रहने पर नाराजगी व्यक्त किया गया।

Advertisement

वही अर्द्ध निर्मित आगनवाड़ी केंद्र को जल्द से जल्द कार्य पूर्ण कराने का निर्देश दिया गया। तथा प्रखंड विकास पदाधिकारी को स्थिति स्पष्ट करने का निर्देश दिया। वही नल जल योजना की भी जांच किये। उन्होंने बीडीओ किरण कुमारी से पँचायत भवन में जल्द आरटीपीएस काउंटर चालू कराने, वही अलग प्रतिनियुक्त कर्मियों का प्रतिनियुक्ति तोड़ने का भी निर्देश दिए।

इसके बाद जिलाधिकारी चकसिकन्दर कल्याणपुर पँचायत स्थित हाजीपुर जन्दाहा मुख्य मार्ग किनारे स्थित पँचायत सरकार भवन का निरीक्षण करने पहुँचे जहां कार्यपालक सहायक आशुतोष आनंद मौजूद पाए गए। उन्होंने पँचायत सरकार भवन में स्थित आरटीपीएस काउंटर के कार्यपालक सहायक आशुतोष आनंद से भी जानकारी लिया।

वही उन्होंने सरकार भवन में ठहरे सशस्त्र बलों के जवानों को अलग शिफ्ट करने का निर्देश थानाध्यक्ष को दिया। ताकि आरटीपीएस काउंटर सही ठंग से सुचारू रूप से चल सके और सभी कर्मी उपस्थित होकर कार्य करे। उन्होंने प्रखंड विकास पदाधिकारी को पंचायत सरकार भवन को पूर्ण रूप से कार्यशील बनाने एवम यहीं से जाती, आवासीय एवं आय के आवेदनों का निष्पादन कराने का निर्देश दिया।

वही सरकार भवन के सामने पोखर की दयनीय स्थिति को देखकर विफर पड़े और इसका सौंदर्यीकरण कराने और रख रखाव को नियमित रूप से देखरेख कराने का भी निर्देश दिया। वहीं उन्होंने आरटीपीएस के तहत प्राप्त आवेदनों का समय से निस्तारण नही करने को लेकर प्रखंड विकास पदाधिकारी को स्पस्टीकरण करने का निर्देश दिया। इस मौके पर जिलाधिकारी के साथ अपर समाहर्ता श्री विनोद कुमार सिंह, प्रशिक्षु सहायक समाहर्त्ता सुश्री निशा, अनुमंडल पदाधिकारी श्री अरुण कुमार उपस्थित रहे।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here