नगर क्षेत्र के नालों की सफाई का जिलाधिकारी ने किया समीक्षा,दिए आवश्यक निर्देश

Advertisement

वाणीश्री न्यूज़, हाजीपुर(वैशाली)। जिलाधिकारी यशपाल मीणा के द्वारा अपने कार्यालय कक्ष में हाजीपुर नगर क्षेत्र में सभी छोटे – बड़े नालों की सफाई कार्य का अनुश्रवण करने वाले प्रतिनियुक्ति सभी वरीय पदाधिकारियों के साथ बैठक कर किये जा रहे सफाई कार्य की समीक्षा की गयी।प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों से बारी – बारी से उनको आवंटित सेक्टर के बारे में जानकारी ली गयी।जिलाधिकारी ने जानना चाहा कि पदाधिकारियों के द्वारा क्या – क्या जाँच किया गया है।

 

Advertisement

सहायक निदेशक,बाल संरक्षण इकाई वैशाली प्रशांत ने बताया कि उन्होंने गाँधी चौक से टाऊन उच्च विद्यालय, राजेन्द्र राय के घर से एसपी आवास तक तथा नखास चौक से मस्जिद चौक तक सभी मुख्य नालों की स्थिति देखी है।गाँधी चौक से टाऊन उच्च विद्यालय तक लगभग 600 मीटर की दूरी में नाला अधिकतर स्लैब से ढका हुआ है।कहीं – कहीं पर खुला है वहाँ पालिथीन जमा हुआ है।पानी का लेयर उपरी सीमा तक है और ओवरफ्लो की संभावना है।इसमें कहीं भी मलवा नहीं निकाला गया है।नाले पर कहीं – कहीं अतिक्रमण भी है।

जिला कल्याण पदाधिकारी ने बताया कि मस्जिद चौक से थाना चौक तक सफायी कार्य किया गया है परन्तु मलवा निकालकर नाले के बगल में छोड़ दिया गया है और अभी तक हटाया गया नहीं है। जिला अल्पसंख्यक कल्याण पदाधिकारी मोहम्मद साजिद ने बताया कि दुकानदार दुकान के सामने डस्ट बीन नही रखें हैं और दुकान का कचड़ा सड़क पर या नाले में ही फेंक देते हैं।इस पर जिलाधिकारी के द्वारा नालों का स्लैब हटाकर ठीक तरह से मलवा निकालने और मलवा सूख जाने पर वहाँ से हटवाने का निर्देश दिया गया।

जिलाधिकरी ने कहा कि पालिथीन जाँच निरंतर अभियान चलाकार कराया जाय तथा सिंगल युज्ड प्लास्टिक का उपयोग बंद करायी जाए।नालों में जाम फँसाने का ये दोनों बड़े कारक हैं।जिलाधिकारी के द्वारा अपर समाहर्त्ता को निर्देश दिया गया कि इस संबंध में माननीय विधायक हाजीपुर एवं चैम्बर ऑफ कॉमर्स के प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर पालिथीन के उपयोग पर रोक के बारे में बता दें और उनसे जरूरी सहयोग लें।

नगर परिषद हाजीपुर के कनीय अभियंता को निर्देश दिया गया कि नालों के सफाय कार्य का इस्टीमेट सभी वरीय पदाधिकारियों को उपलब्ध करा दें ताकि सफायी कार्य के अनुश्रवण के समय यह पता चल सके कि कहाँ क्या होना है।नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि प्रतिदिन पूरे क्षेत्र का भ्रमण करें और जो एजेन्सी कर्यादेश के अनुरूप कार्य नहीं करती है उसे चिन्हित कर कार्य से मुक्त करे। दुकानदारों से दुकान के सामने डस्टबीन रखवायें और उसमें के कूड़ा का समय – समय पर उठाव करायें।

अगर कहीं अतिक्रमण है तो उसे तत्काल हटवायें और यह सुनिश्चित करें कि वहाँ दुबारा अतिक्रमण न हो। सभी प्रतिनियुक्त वरीय पदाधिकारियों को निर्देश दिया गया कि 8 जून को पुनः जाँच करें।जाँच के समय संबंधित संवेदक को भी साथ रखे तथा स्थानीय जनता से फीडबैक प्राप्त कर लिखित प्रतिवेदन उपलब्ध करायें।

जिलाधिकारी ने कहा कि नगर क्षेत्र हाजीपुर को बरसात के दिनों में बारिश की वजह से होने वाली जल जमाव से मुक्त रखने के लिए जो भी जरूरी है उसे समय पर पूर्ण किया जाय।स्वयं जिलाधिकारी के द्वारा विगत 25 मई को विभिन्न स्थलों का निरीक्षण कर नालों की स्थिति देखी गयी थी।उसके बाद पूरे क्षेत्र को 10 सेक्टर में विभाजित कर प्रत्येक सेक्टर के लिए एक – एक वरीय पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति सफायी कार्य के पर्यवेक्षक के लिए किया गया था।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here