शिक्षकों को कुर्ता-पायजामा,जिंस-टी शर्ट न पहनने के आदेश पत्र की प्रति जलाकर संघ ने जताया आक्रोश,संघ के स्थापना दिवस पर किया वृक्षारोपण

Advertisement

कुर्ता-पायजामा भारतीय व महापुरुषों का परिधान है : नवनीत

शिक्षकों को कुर्ता-पायजामा,जिंस-टी शर्ट न पहनने के आदेश पत्र की प्रति जलाकर संघ ने जताया आक्रोश,संघ के स्थापना दिवस पर किया वृक्षारोपण

वाणीश्री न्यूज़ हाजीपुर(वैशाली)। केपरिवर्तनकारी प्रारंभिक शिक्षक संघ जिला इकाई, वैशाली संघ के 17वें स्थापना दिवस के अवसर पर जिला शिक्षा भवन, वैशाली के परिसर में पर्यावरण संरक्षण का संदेश देते हुए वृक्षारोपण कार्यक्रम किया साथ ही जिला शिक्षा पदाधिकारी द्वारा परिधान से संबंधित निर्गत पत्र की प्रति जलाकर विरोध किया।

Advertisement

कार्यक्रम का नेतृत्व जिला अध्यक्ष दिनेश कुमार पासवान ने किया।उन्होंने संबोधित करते हुए कहा कि परिवर्तनकारी प्रारंभिक शिक्षक संघ 17 वर्षों से शिक्षकों के हक की लड़ाई के लिए संघर्ष करते आ रही है। जो मील का पत्थर साबित होता है। आगे भी संघ परिवार शिक्षा और शिक्षको के हित के लिए लड़ाई लड़ते रहेगी।

इसी कड़ी में शिक्षकों के लिए निर्गत पत्र जिला शिक्षा पदाधिकारी, वैशाली द्वारा पोशाक पायजामा,कुर्ता, जींस,टी-शर्ट आदि परिधान पर रोक लगाने वाले आदेश पर आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि बिहार सरकार या शिक्षा विभाग द्वारा कोई भी ड्रेस कोड जारी नहीं किया गया है और कोई भी भत्ता देय नहीं है।ऐसी स्थिति में मात्र एक जिला वैशाली द्वारा पत्र निकालने का कोई औचित्य नहीं है।

जिला कोषाध्यक्ष इंद्रदेव महतो एवं वरीय सचिव नवनीत कुमार ने कहा कि कुर्ता,पायजामा हमारा भारतीय पारंपरिक सौम्य एवं सभ्य परिधान है। शिक्षा के क्षेत्र में बहुमूल्य योगदान देने वाले महापुरुषों में आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी,स्वामी विवेकानंद,डॉक्टर अबुल कलाम, आचार्य कृपलानी,रामधारी सिंह दिनकर,जानकी बल्लभ शास्त्री,डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन आदि अनेकों उदाहरण है जो हमारी सभ्यता एवं संस्कृति को दर्शाता है।

इसके अलावा सभा को अरविंद कुमार,राजू रंजन चौधरी,विकास रौशन,अरविंद कुमार केजरीवाल, राजीव कुमार,अमरेंद्र झा,प्रतिमा कुमारी,नागमणि, विमल किशोर राय, अजय कुमार,रत्नेश कुमार,अहमद हुसैन आजाद,अब्दुल कादिर आदि ने संबोधित किया सभी सदस्यों ने शिष्टमंडल के रूप में जिला शिक्षा पदाधिकारी वैशाली से मिलकर वार्ता किया जिसमें जिला शिक्षा पदाधिकारी महोदय ने परिधान से संबंधित पत्र को रद्द करते हुए वापस लिया।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here