वाणीश्री न्यूज़, वैशाली सात निश्चय योजना का कार्य की देखरेख को लेकर सरकार द्वारा तकनिकी सहायक की बहाली प्रखंडों में की गई है जिसका कार्य प्रखंड के पंचायतों में हो रहे कार्यों को सही और मानक तरीके से समय पर कराना है । इसी को लेकर बिदुपुर प्रखंड में भी 3 तकनिकी सहायक की बहाली हुई है जिसे अलग अलग क्षेत्र दिया गया है । इसी क्रम में अंजली कुमारी को रहीमापुर के अलावा अन्य 8 पंचायत, प्रीती कुमारी को मझौली, अमेर सहित अन्य सात पंचायत और कुमारी प्रतिमा प्रजापति को चकसिकन्दर  कल्यानपुर, वाजितपुर सैदात, बिदुपुर के आलावा अन्य 4 पंचायत दिया गया है ।

रहीमापुर के तकनिकी सहायक अंजली कुमारी को कार्य में लापरवाही और मनमानी को देखते हुए भारद्वाज फाउंडेशन के अध्यक्ष सह व्यूरो जनमत की पुकार, वैशाली तथा वाणीश्री न्यूज़ के व्यूरो प्रमुख ने प्रखंड विकास पदाधिकारी को लिखित शिकायत दी है । शिकायत को लेकर दिए आवेदन में उन्होंने तकनिकी सहायक पर कार्य में लापरवाही और मनमानी का आरोप लगाया है। उन्होंने लिखा है की  हम सब जानते हैं कि सात निश्चय योजना अंतर्गत जल नल योजना मुख्यमंत्री का ड्रीम प्रोजेक्ट रहा है और इस कार्य में कोताही करना मुख्यमंत्री की योजना को धरातल पर नहीं लाने और उस योजना से जनता को वंचित रखने की साजिश करना और लापरवाही करना होगी जो काफी निंदनीय है।

महाशय आपको अवगत कराना चाहता हूं कि पंचायत के तकनीकी सहायक अंजली कुमारी द्वारा अपने कार्यों में लापरवाही बरतने और मनमानी करने के कारण रहीमापुर पंचायत के वार्ड 11 में जल नल का कार्य अभी तक संपन्न नहीं हुआ। बताते चलें कि वार्ड क्रियान्वयन समिति द्वारा दस लाख रुपए की निकासी करने और कार्य पूरा न करने के बाद भी तकनीकी सहायक द्वारा कुछ नहीं किया गया। यहां तक कि स्थानीय लोगों द्वारा इसकी शिकायत करने के बाद भी इसकी जांच नहीं की गई और इस पर कार्यवाही नहीं किया गया। वरीय पदाधिकारी(श्रीमान) के जांच करने के आदेश को भी तकनीकी सहायक अंजली कुमारी द्वारा पालन नहीं किया जाना उनकी कार्य में रुचि नहीं होने और मनमानी करने को दर्शाता है।

यहां तक कि प्रोजेक्ट का आकलन की मांग करने पर उनके द्वारा नहीं दिखाना कहीं ना कहीं कार्य में हो रहे अनियमितता में तकनिकी सहायक अंजली कुमारी की मिलीभगत को भी दर्शाता है जो कि काफी दुखदाई है और कर्तव्यों के विरुद्ध है। यहां तक आकलन की मांग पर उनके द्वारा कहा जाता है कि पदाधिकारी( BDO सर) द्वारा आकलन नहीं दिखाने को कहा गया है और जब तक उनका आदेश नहीं होगा वह नहीं दिखाएंगे और जैसा कि दूरभाष पर पूछने पर आपके द्वारा इस कथन को नकार देना, से स्पष्ट होता है कि इनके द्वारा आप की गरिमा को धूमिल करने की कोशिश की जा रही है जो मेरे नजरों में गलत प्रतीत होता है। इसको लेकर उन्होंने प्रखंड विकास पदाधिकारी को कार्यवाई करने के साथ साथ इसकी जानकारी भी उपलव्ध कराने का अपील किया है ।

 

Previous articleएसपी कार्यालय के रिकार्ड रूम में शार्ट-सर्किट से लगी आग
Next articleजयसिंहपुर पुरानी बाजार श्री कृष्ण बरही महोत्सव बड़ी धूमधाम से मनाया गया