बगैर किसी एसआरबी की सदस्यता और स्वनियमन के चल रहे वेब पोर्टलों के खिलाफ WJAI खोलेगा मोर्चा: डॉ. अमित रंजन

Advertisement

-सितम्बर में होगा ग्लोबल वेब मीडिया समिट, पटना में जुटेंगे देश- विदेश के वेब पत्रकार: आनंद कौशल

-बगैर किसी एसआरबी की सदस्यता और स्वनियमन के चल रहे वेब पोर्टलों के खिलाफ WJAI खोलेगा मोर्चा: डॉ. अमित रंजन

– WJAI राष्ट्रीय कार्यसमिति के अब तक किसी भी बैठक या सांगठनिक गतिविधि में शामिल नहीं होने वाले पदधारक से लेकर कार्यकारिणी सदस्यों की हुई छुट्टी, कोर कमिटी रिक्त पदों पर मनोनयन को अधिकृत

– पश्चिम बंगाल कमिटी नार्थ इस्ट में संगठन विस्तार के लिए जोनल कमिटी के रुप में अधिकृत

– एक महीने में बिहार के सभी जिलों जिला इकाईयों का गठन पूर्ण कराने बिहार प्रदेश इकाई को मिला टास्क

– वेब पत्रकारों के लिए आवास, एक्रेडिटेशन, सुरक्षा, समूह बीमा, आक्समिकता म़े सहयोग के लिए WJAI चलाएगा चरणबद्ध कार्यक्रम

पटना। वेब पत्रकारों के पहले राष्ट्रीय रजिस्टर्ड संगठन वेब जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (WJAI) की राष्ट्रीय कार्यसमिति की विस्तारित बैठक शनिवार को पटना के यूथ हॉस्टल में राष्ट्रीय अध्यक्ष आनंद कौशल की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई।

अध्यक्षयीय संबोधन में आनंद कौशल ने कहा कि सितम्बर महीने में पटना में वेब मीडिया का ग्लोबल समिट आयोजित होगा। दो दिवसीय इस समिट में देश के कोने कोने सहित विश्व भर से समानधर्मी संगठन और वेब पत्रकारों का जमावड़ा होगा।

Advertisement

समिट के उद्घाटन और समापन समारोह में गरिमामयी उपस्थिति के लिए केन्द्रीय सूचना प्रसारण मंत्रालय और बिहार के मुखिया से निवेदन किया जाएगा। दो दिनों तक लगातार सांगठनिक, तकनीकी, विधिक, बौद्धिक सत्र, विभिन्न प्रदेशों की सांस्कृतिक रैलियाँ, सांस्कृतिक कार्यक्रम, विद्यालयी बच्चों की प्रतियोगिता, आधी आबादी के सशक्तिकरण की दिशा में कार्यक्रम आयोजित किए जाएँगे जिससे आयोजन को बृहद कैनवास दिया जा सके। इसके लिए विभिन्न उपसमितियां बनाई जाएंगी।

बैठक में देश में वेब मीडिया की स्तरीयता, विश्वसनीयता और भरोसा को बनाए रखने के लिए खासा मंथन किया गया जिसको समेकित करते हुए राष्ट्रीय महासचिव डॉ. अमित रंजन ने कहा कि देश भर में वेब मीडिया और वेब पत्रकारों को मान्यता प्रदान करने के बाद डब्ल्यूजेएआई के जन्मना उद्देश्य की पूर्ति हो गयी, इसकी वेब जर्नलिस्ट्स स्टैंडर्ड ऑथिरीटी WJSA सूचना प्रसारण मंत्रालय से अपने सदस्य पोर्टलों के साथ निबंधित देश की सबसे बड़ी सेल्फ रेग्यूलेटिंग बॉडी (एसआरबी) है।

उन्होंने कहा कि संगठन अब ऐसे पोर्टलों के चरणबद्ध मोर्चा खोलेगी जो किसी एसआरबी के सदस्य नहीं हैं और न ही जिन्होने मंत्रालय के त्रिस्तरीय ग्रिवांस रिड्रेसल मेकॉनिज्म का अनुपालन किया है न अपने पोर्टल की सूचना निर्धारित प्रपत्र में सूचना प्रसारण मंत्रालय को उपलब़्ध कराई है और न ही किसी स्वनियमन का अनुपालन करते हैं। उन्होंने कहा कि फेसबुक पोस्ट, यूट्यूब चैनलों आदि से संगठन का दूर दूर तक कोई नाता या लेना देना नहीं है उनके बारे में प्रशासन, सरकार और प्लेटफार्म तय करे लेकिन वेब पोर्टलों पर कोई भी कंटेंट स्वनियमन और पूर्व से प्रचलित मानकों और देश के कानूनों सांवैधानिक व्यवस्था के अनुपालन आधार पर ही की जाए यह देखना संगठन का कार्यक्षेत्र है।

बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि राष्ट्रीय कार्य समिति के वैसे पदथारक और सदस्य जिनकी बैठकों में भागीदारी और गतिविधि शून्य है उन्हें पद से मुक्त कर रिक्त स्थान पर प्रदेश कमिटियों की अनुशंसा पर आधार पर राष्ट्रीय कार्यसमिति सुयोग्य व्यक्तियों का घयन कर घोषणा करेगी जिसके लिए कोर कमिटी को कधिकृत किया गया।

बिहार अध्यक्ष प्रवीण बागी ने कहा कि राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक में पारित निर्णय के आलोक में एक महीने में बिहार के 38 जिलों में जिला इकाईयों का गठन पूर्ण कर लिया जाएगा।

बिहार प्रदेश समिति के महासचिव अनूप नारायण सिंह ने कहा कि ग्लोबल मीडिया समिटि के आयोजन में बिहार कमिटी जोर शोर से मेजबानी करेगी।

बैठक में पश्चिम बंगाल कमिटी के अध्यक्ष चंद्रचूड गोस्वामी और महासचिव अनामिका डे को नार्थ इस्ट में जोनल संयोजक मनोनीत करते हुए संगठन के विस्तार की जिम्मेदारी दी गयी।

बैठक में पटना जिला कमिटी द्वारा राष्ट्रीय अध्यक्ष आनंद कौशल, राष्ट्रीय महासचिव डॉ. अमित रंजन, राष्ट्रीय सचिव सुरभित दत्त, राष्ट्रीय संयुक्त सचिध डॉ. लीना, मधूप मणि पिक्कू,, गणपत आर्यन, अकबर इमाम और कार्यालय सचिव मंजेश कुमार सहित बिहार कमिटी के अध्यक्ष प्रवीण बागी, महासचिव अनूप नारायण सिंह, पश्चिम बंगाल कमिटी के अध्यक्ष चंद्रचूड़ गोस्वामी और महासचिव अनामिका डे को स्मृति चिह्न से सम्मानित किया। अध्यक्ष सूरज कुमार, उपाध्यक्ष सूरज कुमार, सचिव ब्रजेश पांडेय, नयन आदि ने सम्मिलित रुप से ग्लोबल समिट के लिए 51 हजार रुपये और कार्यक्रम स्थल का सहयोग करने की घोषणा की तो वहीं शुरुआत में ही राष्ट्रीय अध्यक्ष आनन्द कौशल ने 11हजार का व्यक्तिगत सहयोग प्रदान किया।

बैठक म़े वेब पत्रकारों के लिए आवास, एक्रेडिटेशन, सुरक्षा, समूह बीमा आक्समिकता म़े सहयोग आदि की दिशा में लगातार कार्रवाईयों का निर्णय लिया गया।

राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक में प्रख्यात दिवंगत संपादक और बीफोर प्रिंट के स्वामी शैलेंद्र दीक्षित जी को सदस्यों ने दो मिनट का मौन रखकर अपनी संवेदना जताई। सदस्यों ने प्रख्यात वरिष्ठ पत्रकार के जीवन चरित पर प्रकाश डाला और कहा कि उनका निधन पत्रकारिता जगत के लिए अपूरणीय क्षति है तथा एक पीढ़ी का अंत होने जैसा है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here